बिहार पंचायत चुनाव के तीसरे चरण में 58.16 प्रतिशत मतदान

बिहार पंचायत चुनाव के तीसरे चरण में 58.16 प्रतिशत मतदान

-गया में सबसे ज्यादा 65.42 प्रतिशत मतदान

पटना, 08 अक्टूबर । बिहार में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के तीसरे चरण की वोटिंग शुक्रवार को समाप्त हो गई। कुल 35 जिलों के 50 प्रखंडों में 58.16 प्रतिशत मतदान हुआ। सबसे अधिक मतदान गया में 65.42 प्रतिशत रहा, 62 प्रतिशत मतदान के साथ नवादा दूसरे स्थान पर है। दो सीटों पर पुनर्मतदान कराए जाने का फैसला किया गया है।

समस्तीपुर के उजियारपुर में पंचायत समिति की एक सीट पर पुनर्मतदान होगा। इसके अलावा मुजफ्फरपुर में वार्ड संख्या-4 पर लोग फिर से मतदान करेंगे। बैलेट पेपर में गड़बड़ी के कारण पुनर्मतदान कराए जाएंगे। तीसरे चरण की वोटिंग के दौरान कई जिलों में हल्की झड़प भी हुई। भोजपुर के छवहरी पंचायत के जंगल महाल गांव के बूथ संख्या- 112 पर दो उम्मीदवारों के समर्थकों के बीच झड़प हो गई। विवाद के बाद हुई मारपीट में दो लोग घायल हो गए।

इसके बाद बड़ी संख्या में सुरक्षाकर्मियों को तैनात कर दिया गया था। नालंदा के नगरनौसा प्रखंड के खजुरा पंचायत के बूथ नंबर 19 पर थानाध्यक्ष नारद मुनी की गाड़ी पर ही लोगों ने पथराव कर दिया। इस मामले में पुलिस ने चार लोगों को गिरफ्तार किया।

उत्तर बिहार में दरभंगा जिले में चुनाव के दौरान गश्ती पर निकले एसएसपी बाबूराम के काफिले पर पथराव हो गया। एक गाड़ी का शीशा फूट गया। मतदान केंद्र पर से भीड़ हटाए जाने के बाद ग्रामीण आक्रोशित हो गए थे। इधर, गोपालगंज के भोरे इलाके की हुस्सेपुर पंचायत में मतदान के दौरान बवाल हो गया। यहां मतदान करने आए वोटरों ने बीडीओ पर गाली-गलौज और धमकी देने का आरोप लगाया।

इसके बाद नाराज लोगों ने बूथ से बीडीओ को खदेड़ दिया। बेतिया के सेमरी पंचायात के बूथ संख्या 305 पर बवाल हुआ। लोगों ने सेक्टर मजिस्ट्रेट की गाड़ी का शीशा फोड़ दिया। धीमी मतदान को लेकर बूथ पर ग्रामीण भड़क गए थे। इसके बाद बड़ी संख्या में पुलिस टीम को मतदान केंद्र पर भेज दिया गया।

नवादा जिले के नक्सल प्रभावित रजौली इलाके में मतदाता नाव से मतदान केंद्र पर पहुंचे। यहां मतदान केंद्र और गांव के बीच में फुलवरिया डैम है। डैम को पार करने के लिए मतदाताओं ने नाव का सहारा लिया। उधर, नवादा के ही रजौली में सिरोडाबर पंचायत की बूथ संख्या-162 पर वोट देने के लिए शुरुआत के कई घंटों तक वोटर नहीं पहुंचे। ग्रामीणों ने बताया कि दो मुखिया प्रत्याशी के समर्थकों ने वोटिंग से पहले मारपीट की। इसके विरोध में मतदान का बहिष्कार किया गया। हालांकि, अधिकारियों की ओर से काफी समझाने पर मतदान केंद्र पर लोग पहुंचे थे।

बिहार पंचायत चुनाव के तीसरे चरण में 43,061 महिला उम्मीदवार मैदान में थे। 38,555 पुरुष उम्मीदवारों ने अपनी किस्मत आजमाया। ग्राम पंचायत सदस्य पद के 10,240 पदों के लिए 46,757 उम्मीदवार मैदान में थे। पंच के 10,240 पदों के लिए 16,464 उम्मीदवार मैदान में थे। मुखिया के 753 पद के लिए 6079 उम्मीदवार मैदान में थे। पंचायत समिति सदस्य पद के 1034 पद पर 6,706 उम्मीदवार मैदान में थे।