जमीन विवाद में खूनी संघर्ष, थानेदार समेत चार पुलिस कर्मी और एक दर्जन स्थानीय लोग घायल

जमीन विवाद में खूनी संघर्ष, थानेदार समेत चार पुलिस कर्मी और एक दर्जन स्थानीय लोग घायल

मुज़फ़्फ़रपुर, 20 नवम्बर ।ज़िले के हथौड़ी थाना क्षेत्र के नरमा पूर्वी टोला में गुरुवार को जमीन विवाद सुलझाने गई पुलिस पर एक पक्ष ने हमला कर दिया।

भीड़ ने पुलिस टीम पर जमकर रोड़ेबाजी की। थानेदार को आत्मरक्षार्थ फायरिंग करनी पड़ी। उपद्रवियों ने भी दो-तीन राउंड फायरिंग की। हमले में थानेदार विनोद दास के अलावा एक जमादार और दो चौकीदार घायल हो गए। पुलिस मामले में चार उपद्रवी को गिरफ्तार की है। कई बाइकें जब्त की।

थानेदार एक राउंड सर्विस पिस्टल से फायर कर सभी जख्मी पदाधिकारी को लेकर मौके से निकले। घायलों का बोचहां पीएचसी में इलाज कराया गया।

सूचना पर जिले से बड़ी संख्या में पुलिस बल को लेकर डीएसपी ईस्ट मनोज पांडेय पहुंचे।उपद्रवियों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा। आसपास के इलाके में तनावपूर्ण माहौल कायम है । घायल ग्रामीण में पुलिस से बचते हुए अपना इलाज़ स्थानीय स्तर पर कराया है ।

ग्रामीणों ने यह आरोप लगाया है कि इस जमीनी विवाद को लेकर स्थानीय स्तर पर प्रशासन को कई बार कहा गया लिखित शिकायत भी की गई थी लेकिन प्रशासन द्वारा कोई कार्रवाई नही होने का नतीजा यह है कि आज रणक्षेत्र बना है यह इलाका।

कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा पुलिस पर भी हमला किया गया है जो काफी दुःखद है । कई राउंड फायरिंग दोनो तरफ से हुई है तथा जमकर पत्थरबाजी भी हुई है । चार लोगों को पुलिस ने उठाया है, और रात भर पूरे क्षेत्र में पुलिस के वरिय अधिकारी पुलिस बल के साथ कैम्प किये हुए है ।

एसएसपी जयंतकांत ने कहा कि जमीनी विवाद की घटना में मारपीट की सूचना मिलने पर मौके पहुंंची पुलिस पर हमला किया गया। उग्र भीड़ ने पथराव कर दिया जिसमें चार पुलिसकर्मी घायल हुए हैं स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पुलिस पदाधिकारी को आत्मरक्षा में हवाई फायरिंग करनी पड़ी है । भीड़ द्वारा भी फायरिंग की बात आ रही सत्यापन पर कार्रवाई होगी।