खेत में बिछाए गए बिजली तार की चपेट में आने से मछुआरे की मौत

खेत में बिछाए गए बिजली तार की चपेट में आने से मछुआरे की मौत

बेगूसराय, 05 दिसंबर । बेगूसराय में सोमवार को नंगे बिजली तार की चपेट में आने से एक मछुआरा की मौत हो गई। घटना जिले के नीमा चांदपुरा थाना क्षेत्र के चेरिया मनिकपुर गांव की है। मृतक की पहचान नीमा चांदपुरा थाना क्षेत्र के कुसमहौत निवासी स्वर्गीय महेंद्र सदा के पुत्र संजीत सदा के रूप में हुई है।

परिजनों ने बताया कि संजीत सदा अपने ससुराल मनिकपुर में रहकर मेहनत मजदूरी कर अपना तथा अपने परिवार का भरण-पोषण करता था। अन्य दिनों की तरह सोमवार की सुबह भी मछली का जाल लगाकर वह घर आ रहा था। इसी दौरान रास्ते में रंजीत साह द्वारा जंगली जानवर से बचने के लिए खेत में बिछाए गए बिजली के नंगे तार की चपेट में आ गया। जिसके कारण रंजीत साह के खेत में लगे बिजली के नंगा तार की चपेट में आने से घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गई। घटना के काफी देर बाद आसपास से गुजर रहे लोगों ने खेत में गिरा देखकर हल्ला मचाया तो घटनास्थल पर बड़ी संख्या में लोग पहुंचे, लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। घटना के बाद स्थानीय जनप्रतिनिधि और ग्रामीणों ने पंचायत कर खेत मालिक रंजीत साह को मुआवजे की तौर पर मृतक के परिजनों को तीन लाख देने का आदेश देकर मामले का निपटारा किया।

ग्रामीणों का कहना था कि रंजीत साह अपने खेत में बार-बार बिजली का नंगा तार लगा देता था। उसके कारण पहले भी कई बार लोग उसके चपेट में आ चुके हैं। काफी समझाने-बुझाने के बाद भी रंजीत ने नीलगाय सहित अन्य जंगली जानवरों से फसल को बचाने के लिए खेत में बिजली का नंगा तार लगाना नहीं छोड़ा, जिसके कारण आज एक गरीब मछुआरे की मौत हो गई।