आरा में बिजली संकट से अधिकारी से लेकर नागरिक तक परेशान

आरा,08 अक्टूबर।बिजली की आंख मिचौली से शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्र के लोगों में बेचैनी है और बिजली की समस्या से लोग परेशान हो उठे हैं।अपने क्षेत्र के सांसद से आरा के नागरिक सवाल पूछ रहे हैं कि आखिर बिजली का संकट कैसे खड़ा हो गया है।

आरा के लोगो के सवाल का जवाब बिजली विभाग के वरीय अधिकारियों के पास भी नही है और स्थानीय सांसद का इधर क्षेत्रीय दौरा भी नही हो सका है कि उनसे मिलकर यहां के लोग बिजली संकट की परेशानी से उन्हें अवगत कराएं।

नवरात्रि के आगमन और दुर्गापूजा पर 24 घण्टे बिजली आपूर्ति देने के जिला प्रशासन और बिजली विभाग के अधिकारियों के दावे की हवा निकल गई है।बिजली कंपनी के अधिकारियों ने बताया कि बिजली का संकट सिर्फ आरा में ही नही है बल्कि देश व्यापी बिजली संकट से सरकार भी परेशान है।बिजली कम्पनी के अधिकारियों के अनुसार कोयले के देश व्यापी संकट के कारण देश भर में बिजली का संकट खड़ा हो गया है।

कोयले के देश व्यापी संकट के कारण ही बिजली का उत्पादन और बिजली की आपूर्ति प्रभावित हुई है और बिजली पर संकट छाया हुआ है।आरा की स्थिति यह है कि यहां प्रतिदिन मेन्टेनेन्स के नाम पर चार पांच घण्टे बिजली की आपूर्ति बंद कर दी जा रही है जिससे नवरात्रि और दुर्गापूजा के समय भी लोगो को परेशानियों से जूझना पड़ रहा है।बिजली संकट से न सिर्फ जिले के आम नागरिक बल्कि सरकारी कार्यालयों के अधिकारी भी परेशान हैं।