आरबीआई की एमपीसी बैठक सोमवार से, रेपो दर में 0.35 फीसदी इजाफा संभव

आरबीआई की एमपीसी बैठक सोमवार से, रेपो दर में 0.35 फीसदी इजाफा संभव

नई दिल्ली, 04 दिसंबर । खुदरा महंगाई दर में नरमी के संकेत और ग्रोथ बढ़ाने की जरूरत के बीच रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) की मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) की तीन दिवसीय समीक्षा बैठक सोमवार से शुरू होगी। आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास की अध्यक्षता में होने वाली इस द्विमासिक समीक्षा बैठक में नीतिगत ब्याज दर (रेपो रेट) में 0.35 फीसदी इजाफा होने की संभावना है।

बैंकिंग क्षेत्र के एक्सपर्ट्स ने रविवार को कहा कि रिजर्व बैंक नीतिगत ब्याज दर में लगातार तीन बार 0.50 फीसदी की वृद्धि के बाद अब रेपो रेट में 0.25 से 0.35 फीसदी का इजाफा कर सकता है। एमपीसी की तीन दिवसीय द्विमासिक समीक्षा बैठक 5 दिसंबर से शुरू हो रही है, जिसके नतीजों का ऐलान 7 दिसंबर को किया जायेगा।

रिजर्व बैंक ने पिछली बैठक (30 सितंबर) में खुदरा महंगाई दर को नियंत्रित करने के लिए रेपो दर में 0.50 फीसदी का इजाफा किया था। आरबीआई इससे पहले मई में रेपो रेट में 0.40 फीसदी, जून में 0.50 फीसदी और अगस्त में 0.50 फीसदी और सितंबर में 0.50 फीसदी की बढ़ोतरी कर चुका है। इस तरह वित्त वर्ष 2022-23 में रिजर्व बैंक ने रेपो रेट में अब तक 1.90 फीसदी की बढ़ोतरी की है, जो बढ़कर 5.90 फीसदी के स्तर पर है।