डब्ल्यूटीओ ने 2023 के लिए वैश्विक व्यापार का अनुमान घटाकर एक फीसदी किया

डब्ल्यूटीओ ने 2023 के लिए वैश्विक व्यापार का अनुमान घटाकर एक फीसदी किया

नई दिल्ली, 06 अक्टूबर । दुनिया में मंदी का खतरा मंडराने के बीच विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) ने वर्ष 2023 के लिए वैश्विक व्यापार के पूर्वानुमान को घटाकर एक फीसदी कर दिया है। इससे पहले डब्ल्यूटीओ ने 3.4 फीसदी वृ्द्धि रहने का अनुमान जताया था। हालांकि, डब्ल्यूटीओ ने वर्ष 2022 में वैश्विक व्यापार में 3.5 फीसदी वृद्धि का अनुमान जताया है।

डब्ल्यूटीओ के गुरुवार को जारी एक बयान के मुताबिक वैश्विक अनिश्चितताओं के कारण विश्व व्यापार में होने वाली वृद्धि 2023 में घटकर एक फीसदी तक रह सकती है। हालांकि, 2022 के वैश्विक व्यापार में 3.5 फीसदी वृद्धि का अनुमान है, जबकि इससे पहले अप्रैल में डब्ल्यूटीओ ने समान अवधि के लिए 3 फीसदी वृद्धि का अनुमान जताया था। डब्ल्यूटीओ के मुताबिक विश्व व्यापार की गति 2022 की दूसरी छमाही में धीमी पड़ने और 2023 में सुस्त रहने का अनुमान है।

विश्व व्यापार संगठन का ये पूर्वानुमान भारत के लिए अच्छा संकेत नहीं हैं। भारत ने अपने निर्यात में आई गिरावट को बढ़ावा देने के लिए महत्वाकांक्षी योजना बनाई है। इसी हफ्ते जारी वाणिज्य मंत्रालय के प्राथमिक आंकड़ों के मुताबिक देश का निर्यात सितंबर महीने में 3.52 फीसदी घटकर 32.62 अरब डॉलर रहा, जबकि पिछले साल सितंबर महीने में यह 33.81 अरब डॉलर था।