रायपुर:कलम रख अवकाश पर जा आंदोलन, तीन सितंबर को कर्मचारियों का सामूहिक अवकाश

रायपुर:कलम रख अवकाश पर जा आंदोलन, तीन सितंबर को कर्मचारियों का सामूहिक अवकाश

रायपुर, 1 सितंबर ।छत्तीसगढ़ कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन के आव्हान पर तीन सितंबर को प्रस्तावित प्रांतव्यापी सामूहिक अवकाश आंदोलन की तैयारी जोर-शोर से जारी है। विभिन्न जिलों में बैठकों व प्रचार प्रसार अभियान निरंतर जारी है। रायपुर राजधानी में विभिन्न कार्यालयों में जनसंपर्क किया गया। रविशंकर विद्यालय कर्मचारी संघ , क्रांतिकारी कोरोना योद्वा संध व छत्तीसगढ़ डाटा एट्री आपरेटर संघ के समर्थन के बाद अब नगर निगम कर्मचारी महासंघ ने भी आंदोलन में भाग लेने का निर्णय ले लिया है।

प्रदेश के लघु वेतन चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी संध एवं वाहन चालक संघ भी सामूहिक अवकाश पर रहेगा । सभी संगठन प्रातः 10.30 बजे अपने-अपने कार्यालयों में एकत्र होकर, वाहन रैली के रूप में बुढ़ातालाब धरना स्थल की ओर कूच करेगा।छग.कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन के प्रमुख प्रवक्ता विजय कुमार झा, छग.लधु वेतन चतुर्थ वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ के प्रांताध्यक्ष बिन्देश्वर राम रौतिया, वाहन चालक संघ अध्यक्ष मनीष ठाकुर, ने बताया है कि कलम रख अवकाश पर जा आंदोलन के तहत 03 सितंबर को प्रस्तावित सामूहिक अवकाश आंदोलन अपनी सफलता के चरमसीमा की ओर अग्रसर है।

मंगलवार को राजधानी स्थित कार्यालयों में फेडरेशन के प्रमुख प्रवक्ता विजय कुमार झा, संभागीय संयोजक अजय तिवारी, महामंत्री उमेश मुदलियार, बी.पी.कुरील, सी.एल.दुबे, के नेतृत्व में जनसंपर्क किया गया। नगर निगम रायपुर के मुख्यालय में अजय वर्मा, संतोष पाण्डेय, महेन्द्र गढ़ेवाल, रमेश साहू के नेतृत्व में जनसंपर्क किया जाकर, अवकाश आवेदन भरवाएं गए। इसी प्रकार लोक स्वास्थ यांत्रिकी विभाग में सुरेन्द्र त्रिपाठी, आलोक जाधव, विक्रय क्रय विभाग के सभी वृत्तों में गौतम हाजरा, अक्की कश्यप, पिताम्बर ठाकुर, अमरेन्द्र झा, के साथ अवकाश आवेदन प्रस्तुत कराए गए। रविशंकर विश्व विद्यालय कर्मचारी संघ अध्यक्ष श्रवण सिंह ठाकुर एवं महासचिव प्रदीप मिश्रा के साथ अवकाश आवेदन प्रस्तुत किए गए। लोक स्वास्थ याॅत्रिकी विभाग एवं जलसंसाधन विभाग में सुरेन्द्र त्रिपाठी, आलोक जाधव, के नेतृत्व में गेट मिटिंग कर नारेबाजी की गई। पर्यटन एवं संस्कृति विभाग में डाॅ. अरूंधति परिहार, संजय झड़बड़े के साथ नारेबाजी कर अवकाश आवेदन प्रस्तुत कराये गये।