रेवती स्टेशन को सी श्रेणी में नही लाया गया तो, रेवती स्टेशन नही तो वोट नही...

संजय कुमार तिवारी

BALIA:ख़बर यूपी कर बलिया से हैं जहाँ बलिया जनपद के रेवती रेलवे स्टेशन का मामला सामने आ रहा हैं रेवती रेलवे स्टेशन को हाल्ट बनाये जाने से नाराज रेवती व्यापर मंडल,और सामाजिक संगठनों व ग्रामीणों ने इसका पुरजोर विरोध किया ।

रेवती रेलवे स्टेशन पर लगा बैनर के माध्यम से रेवती स्टेशन नही तो वोट नही का बैनर लगाया गया हैं। और सरकार से मांग की गई है कि अगर रेवती स्टेशन को ई श्रेणी से हटाकर सी श्रेणी में दर्जा नही मिलता हैं तो यहां कि जनता इसबार चुनाव का बहिष्कार करेंगे और सरकार के मुंह पर करारा तमाचा मारेंगे।

रेवती दो विधान सभा बांसडीह विधान सभा और बैरिया विधान सभा जुडे होने के कारण यहाँ की जनता को परेशानियों का सामना करना पड़ सकता हैं। वही सामाजिक संगठनों ने बताया कि रेवती रेलवे स्टेशन के हर आन्दोलनो से जुड़े हुए है 2004 से लेकर अबतक जुड़े रहे है लंबा आंदोलन चला दो दो गाड़िया मिली।सारनाथ और उत्सर्ग का ठहराव हुआ। हमलोगों की गिरफ्तारी हुई एक सप्ताह तक हमलोग जेल में रहे ।हम ऐसी दशा में सरकार से मांग करते हैं हमारे रेलवे को पूर्व की तरह सी श्रेणी में ला दिया जाय।

हाल्ट अगर रहा तो बड़ा आंदोलन करके जनता को हम फिर रेलवे ट्रैक पर उतरेंगे ।जेल जाना पड़े या गोली चलानी पड़े या गोली खानी पड़ी उसके लिए हमलोग तैयार हैं।रेल रोको संघर्ष समिति के तरफ से 56 ज्ञापन दे चुके हैं। और 38 बार धरना प्रदर्शन रेल ठहराव को लेकर हो चुका हैं क्षेत्र के सभी संगठनों की तरफ से बैनर लगा है और सरकार हमारी मांग को नही मानता हैं तो आने वाले विधान सभा चुनाव में बांसडीह विधान सभा और बैरिया विधानसभा में वोट का चोक के माध्यम से सरकार को सबक सिखाएंगे।