कौशाम्बी में सड़क हादसा, कई घायल, बाल -बाल बची 30 लोगों की जिंदगी

कौशाम्बी में सड़क हादसा, कई घायल, बाल -बाल बची 30 लोगों की जिंदगी

--सवारियों से भरी पिकअप लोडर पुल से टकरा नहर में गिरी

--फतेहपुर से चित्रकूट जा रही थी पिकअप वैन

-ड्राइवर को नींद आने से हुआ हादसा

कौशाम्बी, 13 अक्टूबर । महेवाघाट कोतवाली क्षेत्र के हटवा गांव के समीप बुधवार की भोर एक सड़क हादसा हो गया। लखनऊ-चित्रकूट मार्ग पर हुए हादसे में सवारियों से भरी पिकअप वैन पुल से टकरा कर नहर में जा गिरी। घायलों में एक वर्ष के मासूम से लेकर 74 वर्ष की बुजुर्ग महिला भी शामिल है। सभी का इलाज संयुक्त जिला अस्पताल में किया जा रहा है।

पिकअप सवार सभी लोग आपस में रिश्तेदार बताये जा रहे हैं। वे सभी फतेहपुर जनपद से चित्रकूट जनपद में बच्चों का मुंडन कराने कामतानाथ मंदिर जा रहे थे। हादसे की सूचना पुलिस ने फतेहपुर पुलिस के जरिये घर वालों को दी है।

फतेहपुर जनपद का असोथर निवासी दीपू (30) पुत्र बैजू अपनी बेटी पल्लवी (02) व् शारदा (03) का मुंडन कराने चित्रकूट के कामतानाथ मंदिर जा रहा था। दीपू के साथ उसके माता-पिता, दादा-दादी, चाचा-चची, भाई-भाभी सहित परिवार एवं अन्य रिस्तेदार भी साथ थे। कुनबे में शामिल 30 लोग फतेहपुर से एक गांव की पिकअप गाड़ी लेकर चित्रकूट धाम के लिए मंगलवार की रात निकले थे।

पिकअप लोडर जैसे ही कौशाम्बी से होकर गुजर रहे चित्रकूट मार्ग पर हटवा गांव के पंहुचा, उसके चालक को झपकी आ गई। इससे भोर करीब तीन बजे गाड़ी पुल से टकरा कर नहर में पलट गई। हादसे में चीख पुकार मच गयी। औरतों-बच्चों और बुजुर्गों को नहर के कीचड़ भरे पानी से निकालने को पुरुष संघर्ष करने लगे। स्थानीय ग्रामीणों की मदद से गाड़ी सवार सभी लोगों को कीचड़ भरे पानी से बाहर निकला गया।

पिकअप सवार दिनेश ने बताया कि हम लोग पूरी तरह से नींद की आगोश में थे। अचानक तेज आवाज हुई और सब के सब पानी और कीचड़ में धसने लगे। चारों तरफ चीख पुकार, बचाओ बचाओ की आवाज से समझ नहीं आया कि क्या हो गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने एम्बुलेंस के जरिये घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया। अस्पताल पहुंची एम्बुलेंस से अस्पताल के नाइट ड्यूटी स्टाफ में भी हड़कंप मच गया। आनन फानन डाक्टरों ने वार्ड ड्यूटी स्टाफ को बुलाकर घायलों के इलाज की स्थिति नियंत्रित की।

सीएमएस डॉ. दीपक सेठ ने बताया कि हादसे में घायलों को अस्पताल में भर्ती कर इलाज किया जा रहा है। 30 मरीज भर्ती किये गए है। उनमें महिलाएं, बुजुर्ग एवं मासूम बच्चे भी शामिल हैं। पिकअप का ड्राइवर राधेश्याम को भी चोट लगी है। उसका भी इलाज जारी है।