दिल्ली: रिंकू शर्मा को दी श्रद्धांजलि, हत्यारों को फांसी देने की मांग

दिल्ली: रिंकू शर्मा को दी श्रद्धांजलि, हत्यारों को फांसी देने की मांग

अश्वनी शर्मा

नई दिल्ली, 15फरवरी । दिल्ली के मंगोलपुरी इलाके में एक समुदाय विशेष के युवकों के हमले में अपनी जान गंवाने वाले बजरंग दल के कार्यकर्ता रिंकू शर्मा को रविवार को दिल्ली समेत देशभर के कई प्रमुख शहरों में श्रद्धांजलि दी गयी। श्रद्धांजलि का आयोजन विश्व हिन्दू परिषद (विहिप) और बजरंग दल ने संयुक्त रूप से किया था। दिल्ली में यह कार्यक्रम मंगोलपुरी के एस-ब्लॉक चौक पर आयोजित किया गया। इसमें विहिप, बजरंग दल और भाजपा समेत समाज के तमाम लोग उपस्थित हुए और दिवंगत रिंकू शर्मा को श्रद्धांजलि अर्पित की। श्रद्धांजलि सभा में शरीक हुए सभी लोगों ने रिंकू शर्मा के हत्यारों को फांसी देने की मांग की।

अखिल भारतीय संत समिति के मंत्री महामंडेश्वर नवल किशोर, विहिप के राष्ट्रीय प्रवक्ता विनोद बंसल, दिल्ली भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता, भाजपा सांसद हंसराज हंस समेत कई प्रमुख लोग इस सभा में उपस्थित हुए। वक्ताओं ने कहा कि रामभक्त रिंकू शर्मा देश का बेटा था। आरोपितों ने उससे इसी वजह से चिढ़कर उसकी पीठ में खंजर घोप दिया। जबकि उसी बेटे ने आरापितों के लिए अपना खून तक दिया था। आरोपित उसके रिश्तेदार या परिवार के नहीं थे लेकिन रिंकू शर्मा ने मानवता के कारण रक्तदान किया था। वक्ताओं ने कहा कि रिंकू शर्मा के हत्यारों को फांसी होनी चाहिए जबकि इस वारदात में शामिल अन्य लोगों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत कार्रवाई होनी चाहिए। इस दौरान वक्ताओं ने यह भी कहा कि एस ब्लॉक चौक का नाम रिंकू शर्मा चौक के नाम पर रखा जाना चाहिए।

श्रद्धांजलि सभा के मंच पर जब रिंकू शर्मा की मां आईं तो कुछ क्षण के लिए माहौल गमगीन हो गया था। रिंकू की मां का कहना था कि अभी तक जितने भी आरोपित पुलिस ने पकड़े हैं, उसके अलावा भी कई और आरोपित फरार हैं। ये सभी आरोपित सीसीटीवी कैमरों में कैद हैं। जो इलाके में लगे हुए थे। पुलिस को अपना काम ईमानदारी से करना चाहिए। कोई भी आरोपी बचना नहीं चाहिए।

भाजपा सांसद हंसराज हंस ने कहा कि आज आंख रो रही है, दिल भी रो रहा है। उस मां-बाप को देखो जिनके बेटे की पीठ में जालिमों ने छुरा घोंप दिया। ऐसे जालिमों की फिदरत सिर्फ जुल्म करना होता है। जिनको सख्त से सख्त सजा होनी चाहिए। उन्होंने दिल्ली सरकार से रिंकू के भाई को सरकारी नौकरी देने मांग की।