अस्पताल से फरार बदमाश मुठभेड़ में ढेर

नई दिल्ली, 28 मार्च । जीटीबी अस्पताल से गुरुवार को पुलिस हिरासत से फरार हुआ कुलदीप मान उर्फ फज्जा मुठभेड़ में मारा गया। शनिवार देर रात रोहिणी के सेक्टर-14 स्थित तुलसी अपार्टमेंट में पुलिस की स्पेशल सेल एवं कुलदीप मान के बीच मुठभेड़ हुई। इस मुठभेड़ के दौरान कुलदीप मान को गोली लगी। उसे तुरंत आम्बेडकर अस्पताल पहुंचाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

डीसीपी प्रमोद कुशवाहा के अनुसार, कुलदीप मान उर्फ फज्जा जेल में बंद जितेंद्र मान उर्फ गोगी का शूटर था। बीते गुरुवार को उसे जीटीबी अस्पताल में उपचार के लिए तीसरी बटालियन के पुलिसकर्मी लेकर गए थे। वहां से लौटते समय पांच से छह बदमाशों ने पुलिस टीम पर हमला कर दिया। वह फज्जा को पुलिस हिरासत से लेकर भागने लगे। इस दौरान दोनों तरफ से लगभग 20 राउंड गोलियां चलाई गई। इस बीच फज्जा वहां से भाग गया। लेकिन तब पुलिस की गोली से रवि नामक बदमाश मारा गया जबकि अंकेश घायल हो गया था।

रोहिणी में देर रात हुई मुठभेड़

डीसीपी प्रमोद कुशवाहा के अनुसार स्पेशल सेल की टीम फरार हुए फज्जा के बारे में जानकारी जुटा रही थी। इस दौरान स्पेशल सेल की टीम को सूचना मिली कि फज्जा रोहिणी सेक्टर-14 के तुलसी अपार्टमेंट में छिपा हुआ है। इस जानकारी पर इंस्पेक्टर रविन्द्र जोशी और सुनील की टीम ने वहां पर छापा मारा। उन्होंने फ्लैट के आसपास के क्षेत्र को पहले खाली करवाया। इसके बाद उन्होंने फज्जा को सरेंडर करने के लिए कहा, लेकिन उसने पुलिस टीम पर गोली चला दी। जवाबी कार्रवाई में पुलिस की तरफ से भी गोली चलाई गई। यह गोली फज्जा को लगी। उसे उपचार के लिए अस्पताल ले जाया गया लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी।

शरण देने वाला हुआ गिरफ्तार

पुलिस के अनुसार यहां पर कुलदीप मान उर्फ फज्जा को शरण देने वाले शख्स को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस को जांच के दौरान पता चला है कि फज्जा को पुलिस हिरासत से भगाने की साजिश बैंकॉक में रची गई थी। इसमें संदीप उर्फ काला जठेड़ी ने उसकी मदद की थी। इसे ध्यान में रखते हुए उन आरोपियों की भी तलाश की जा रही है जो उसको फरार करवाने में शामिल थे।