डूरंड लाइन पर बाड़ लगाने को लेकर भिड़े तालिबान व पाकिस्तान के सैनिक, तोपों ने उगले गोले

इस्लामाबाद, 17 जनवरी (हि.स.)। पाकिस्तान और अफगानिस्तान के बीच सरहद पर 2600 किलोमीटर लंबी डूरंड लाइन पर बाड़ लगाने को लेकर तालिबान व पाकिस्तान के बीच संघर्ष हो गया। संघर्ष इस कदर बढ़ गया कि तोपों ने गोले उगले, जो आसपास के रिहायशी इलाकों तक जाकर गिरे।

तालिबान डूरंड लाइन पर बाड़ लगाने की पाकिस्तानी कोशिशों का विरोध कर रहा है। इस पर बीती रात पाकिस्तानी सेना ने तालिबानी ठिकानों पर तोपों से गोले बरसाना शुरू कर दिया। इसके जवाब में तालिबानी आतंकियों ने गोले बरसाए हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार पाकिस्तानी सेना की ओर से दागे गए तोप के कई गोले अफगानिस्तान के कुनार प्रांत के सरकानो जिले में जाकर गिरे। इसके जवाब में तालिबानी आतंकियों ने भी अपनी तोपों से गोले दागे।

दरअसल, डूरंड लाइन को लेकर पाकिस्तान व अफगानिस्तान का विवाद नया नहीं है। अफगानिस्तान का कहना है कि अंग्रेजों के जमाने में तत्कालीन भारत (अब पाकिस्तान का हिस्सा) और अफगानिस्तान की सीमा पर जिस डूरंड लाइन को सीमा रेखा करार दिया गया था, वह सही नहीं है। इस सीमा रेखा ने पश्तून कबीलों को बांट दिया है। पिछले दिनों अफगान विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता इनायातुल्लाह ख्वारजमी ने एक वीडियो ट्वीट कर पाकिस्तान द्वारा सीमा पर बाड़ लगाए जाने को अनुचित व गैरकानूनी करार दिया था। पाकिस्तान के गृह मंत्री शेख रसीद ने हाल ही डूरंड लाइन कंटीले तारों की बाड़ लगाने का काम तालिबान की सहमति से पूरा करने की बात कही थी। इसके बावजूद विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है।