गंगोत्री-यमुनोत्री में माइनस 2 डिग्री सेल्सियस तापमान में 28 संन्यासी साधना में लीन

गंगोत्री-यमुनोत्री में माइनस 2 डिग्री सेल्सियस तापमान में 28 संन्यासी साधना में लीन

उत्तरकाशी, 28 दिसम्बर ( हि.स.)। अनादिकाल से ऋषि-मुनियों की तपोस्थली गंगोत्री और यमुनोत्री में इनदिनों हाड़ गला देने वाली ठंड पड़ रही है। पूरा क्षेत्र हिमाच्छिदत है। इस समय यहां तापमन शून्य से नीचे चला गया है। लगातार बर्फ गिर रही है। ऐसी भीषण ठंड में 28 साधु-संन्यासी साधनारत हैं। इनके शरीर में वस्त्र के नाम पर सिर्फ लंगोट है।

करीब 3,000 हजार मीटर से अधिक ऊंचाई पर स्थित यमुनोत्री से आई तस्वीर में एक ऋषि साधनारत हैं। यह हनुमान मंदिर के उपासक हैं। ऐसी मान्यता है कि यमुनोत्री धाम के हनुमान मंदिर के यह संत वर्षों से बजरंगबली और मां यमुना की साधना कर रहे हैं। ये 12 माह यमुनोत्री धाम में निवास करते हैं।

इस संबंध में गंगोत्री धाम में गंगोत्री नेशनल पार्क के रेंजर प्रताप सिंह एवं सत्येंद्र सेमवाल ने बताया कि गंगोत्री में 28 साधु साधना में लीन हैं। इनमें दो साधु तपोवन में हैं। यह लोग हिम कंदराओं में साधना कर रहे हैं।