महाराष्ट्र भूषण पुरस्कार से नवाजी जायेंगी दिग्गज गायिका आशा भोंसले

महाराष्ट्र भूषण पुरस्कार से नवाजी जायेंगी दिग्गज गायिका आशा भोंसले

सुरभि सिन्हा

अपनी मधुर आवाज से हर किसी का दिल जीतने वाली दिग्गज गायिका आशा भोंसले को जल्द ही महाराष्ट्र सरकार के सर्वोच्च पुरस्कार यानी महाराष्ट्र भूषण पुरस्कार से सम्मानित जायेगा। गुरुवार को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की अगुवाई में बनी कमेटी ने आशा भोंसले को साल 2020 के लिए यह पुरस्कार देने का निर्णय लिया हैl महाराष्ट्र सरकार की तरफ से की गई इस घोषणा के बाद आशा भोंसले ने इसे लेकर अपनी खुशी जाहिर की है। इसके साथ ही उन्होंने अपने तमाम चाहनेवालों के प्रति आभार भी व्यक्त किया है। आशा भोंसले ने इंस्टाग्राम पर अपनी एक तस्वीर शेयर करते हुए लिखा-महाराष्ट्र के लोगों का आभार कि उन्होंने मुझे राज्य का सबसे बड़ा पुरस्कार महाराष्ट्र भूषण पुरस्कार देने का निर्णय लिया हैl मैं सभी का आभार व्यक्त करती हूंl जय हिंद, जय महाराष्ट्रl

आशा भोंसले की इस पोस्ट के जरिये फैंस उन्हें बधाई दे रहे हैं। आशा भोंसले एक ऐसे फिल्मी परिवार से ताल्लुक रखती हैं,जहां संगीत को बहुत सम्मान दिया जाता है। आशा भोंसले हिंदी सिनेमा के जाने माने गायक एवं अभिनेता स्वर्गीय दीनानाथ मंगेशकर की पुत्री एवं स्वर कोकिला लता मंगेशकर व उषा मंगेशकर की बहन है। आशा भोसले ने साल 1943 में अपनी पहली मराठी फिल्म माझा बाळ में गीत गाया। यह गीत चला चला नव बाळा... दत्ता डावजेकर के द्वारा संगीतबद्ध किया गया था। इसके बाद आशा भोसले ने अपना पहला हिंदी गीत साल 1948 में आई फिल्म चुनरिया में गाया और गाने के बोल थे सावन आया। आशा भोंसले ने कई फ़िल्मी गीतों को अपनी आवाज दी और अपनी गायकी से हर किसी का दिल जीता। उन्होंने हिंदी के अलावा मराठी, बंगाली, गुजराती और अन्य भाषाओं में गाने गाए हैं।

आशा की विशेषता है कि इन्होंने शास्त्रीय संगीत, गज़ल और पॉप संगीत हर क्षेत्र में अपनी आवाज़ का जादू बिखेरा और दर्शकों के दिलों को जीता। संगीत के क्षेत्र में दिए गए इन सराहनीय योगदानों के लिए आशा भोसले को भारत सरकार ने साल 2001 में दादा साहब फाल्के पुरस्कार एवं साल 2008 में पद्म विभूषण पुरस्कार से सम्मानित किया। इसके अलावा आशा भोसले सात फिल्म फेयर पुरस्कार, दो राष्ट्रीय पुरस्कार समेत अन्य कई पुरस्कारों से सम्मानित हो चुकी हैं। आशा भोसले संगीत की दुनिया में अब भी सक्रिय हैं और आज भी उनकी आवाज़ का जादू बरकरार है।