भोपाल: नर्सिंग कॉलेज प्रिंसिपल की बेटी ने की खुदकुशी

भोपाल: नर्सिंग कॉलेज प्रिंसिपल की बेटी ने की खुदकुशी

भोपाल, 11 सितंबर । राजधानी के मिसरोद इलाके में नर्सिंग कॉलेज की प्रिंसिपल की बेटी ने घर में दुपट्टे से फंदा बनाकर खुदकुशी कर ली। शुक्रवार-शनिवार की दरमियानी रात करीब ढाई बजे जब मां की नींद खुली तो उन्हें लगा कि बेटी खड़ी हुई है। उन्होंने उसे आवाज दी। वे उसके पास पहुंचीं तो देखा वह फंदे से लटकी हुई थी। मौके से सुसाइड नोट नहीं मिला है।

पुलिस के अनुसार कैंप नंबर 12 बैरागढ़ के रहने वाले रोहताश भटनागर डीआरएम ऑफिस में ओएस के पद पर काम करते हैं। उनकी पत्नी प्रेमलता भटनागर विदिशा के नर्सिंग कॉलेज में प्रिंसिपल हैं। उनकी 24 साल की बेटी यशी मां प्रेमलता के साथ ईटन पार्क मिसरोद में रहती थी। उसकी अभी शादी नहीं हुई थी।

यशी के पिता रोहताश भटनागर ने पुलिस को बताया कि शुक्रवार रात करीब 10 बजे खाना खाने के बाद बेटी और पत्नी सोने चले गए। मैं भी दूसरे कमरे में सो गया। रात करीब ढाई बजे प्रेमलता की नींद खुली। कमरे का दरवाजा खुला देख प्रेमलता ने यहां-वहां देखा तो उन्हें कमरे में यशी नजर आई। उन्हें लगा कि यशी खड़ी हुई है। प्रेमलता ने यशी से पूछा बेटी यहां क्यों खड़ी हो, लेकिन उसने जवाब नहीं दिया। वे उसके पास पहुंचीं तो देखा कि यशी दुपट्टे के फंदे से फांसी लगा चुकी थी। उनकी आवाज सुनकर वे भी कमरे में पहुंचे तो यशी फंदे पर मिली। पुलिस के अनुसार यशी के दो भाई हैं। दोनों जॉब करते हैं और अलग रहते हैं।