ग्वालियर व्यापार मेला 15 फरवरी से होगा शुरू, मुख्यमंत्री ने किया मेला कार्यालय का उद्घाटन

ग्वालियर व्यापार मेला 15 फरवरी से होगा शुरू, मुख्यमंत्री ने किया मेला कार्यालय का उद्घाटन

ग्वालियर, 07 फरवरी । ग्वालियर के प्रसिद्ध व्यापार मेले को शुरू करने की मांग लम्बे समय से व्यापारी कर रहे थे, लेकिन कोरोना से बचाव के चलते लगातार इसकी तारीख बढ़ती जा रही है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रविवार को ग्वालियर में व्यापार मेला कार्यालय के उद्घाटन किया और घोषणा की कि अंचल का प्रसिद्ध ग्वालियर व्यापार मेला 15 फरवरी से शुरू होगा।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने श्रीमंत माधवराव सिंधिया ग्वालियर व्यापार मेला कार्यालय उद्घाटन कार्यक्रम का दीप प्रज्जवलित कर शुभारंभ किया। इस अवसर पर केंद्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर, पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया, राज्य के अनेक मंत्री और भाजपा पदाधिकारी मौजूद रहे। मुख्यमंत्री ने मंच पर मौजूद मेले से जुड़े पदाधिकारियों से सार्वजनिक तौर पर ही मेले से जुड़ीं तैयारियों को लेकर पूछताछ करने के बाद घोषणा की कि मेला 15 फरवरी से प्रारंभ होगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज ग्वालियर व्यापार मेला के कार्यालय का केन्द्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर जी, राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया जी एवं अन्य गणमान्य जनप्रतिनिधियों के साथ शुभारंभ किया। हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने कोविड-19 की रोकथाम के लिए जो कदम उठाये हैं, उससे यह भारत में लगभग नियंत्रित होने की कगार पर है। वैक्सीनेशन के मामले में भी भारत ने रिकॉर्ड कायम किया है। कोविड19 के कारण मेले के आयोजन में थोड़ी देर हुई, लेकिन परिस्थितियों को देखते हुए यह सावधानी भी आवश्यक थी। अब मेले के लिए अनुकूल परिस्थितियां हैं। सबके सहयोग से हम इस मेले को और भव्य स्वरूप प्रदान करेंगे।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि आत्मनिर्भर भारत और आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश के साथ आत्मनिर्भर ग्वालियर का भी स्वरूप हम सोच रहे हैं। आत्मनिर्भर ग्वालियर को बनाने में हम कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। ग्वालियर मेले के माध्यम से भी व्यापार को बढ़ाने के लिए हरसंभव प्रयास किये जायेंगे। ग्वालियर का मेला ग्वालियर की पहचान है। यह 1905 में प्रारंभ हुआ था और तब से अनवरत जारी है और समय के साथ यह अधिक भव्य स्वरूप धारण करता गया। हमारा संकल्प है कि ग्वालियर की पहचान इस मेले को और यशस्वी पहचान प्रदान किया जायेगा। इस मेले में खरीद-बिक्री किये जाने वाले वाहनों का रजिस्ट्रेशन भी ग्वालियर में ही किये जाने की व्यवस्था सुनिश्चित की जाये। 15 फरवरी से ग्वालियर मेला प्रारंभ किया जायेगा। व्यापार और रोजगार को बढ़ाने के लिए आवश्यक छूट प्रदान की जायेगी। यहां उद्योग और व्यापार को बढ़ाने के लिए लगातार इस मेले के प्रांगण का भी उपयोग होना चाहिए।