एनसीएल जयंत ने मेढ़ौली में भू-विस्थापितों को बांटा मुआवजा

एनसीएल जयंत ने मेढ़ौली में भू-विस्थापितों को बांटा मुआवजा

सिंगरौली, 20 नवम्बर । भारत सरकार की मिनीरत्न कंपनी नॉर्दर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड की जयंत परियोजना ने मेढ़ौली ग्राम में 11 भू-धारकों को लगभग 52 लाख का मुआवजा वितरित किया। इस अवसर पर जयंत क्षेत्र के महाप्रबंधक आर बी प्रसाद, परियोजना अधिकारी जयंत आर के सिह, स्टाफ आधिकारी (कार्मिक) सफ़दर खान, स्टाफ अधिकारी (खनन), बी एल शुक्ला, स्टाफ अधिकारी (सिविल) पी के राय व जयंत क्षेत्र के श्रमिक संघ के प्रतिनिधि मौजूद रहे ।

मुआवजा वितरण के दौरान महाप्रबंधक जयन्त आर बी प्रसाद ने मेढ़ौली ग्राम के स्थानीय लोगों की समस्याओं को सुना तथा उनके त्वरित निवारण के लिए हर संभव प्रयास करने का आश्वासन दिया, हालांकि किसानों का कहना है कि एनसीएल से जितना मुआवजा मिलना चाहिए उतना नहीं मिल रहा है।

किसानों का कहना है कि भूमि के बदले भूमि, मुआवजा और एक सदस्य को नौकरी दी जाए। उल्लेखनीय है कि जयंत परियोजना के विस्तार के लिए अर्जित भूमि एवं उस पर स्थित सम्पतियों के एवज में अभी तक लगभग 263 करोड़ रुपये का मुआवजा वितरित किया जा चुका है। साथ ही एनसीएल में जिला प्रशासन सिंगरौली से प्राप्त सूची के आधार पर विस्थापितों की पात्रता का निरीक्षण करके रोजगार देने की प्रक्रिया भी चल रही है।

गौरतलब है कि जयंत एनसीएल की प्रमुख कोयला उत्पादक खदान है जिसका इस वर्ष का वार्षिक उत्पादन एवं प्रेषण लक्ष्य 20 मिलियन टन निर्धारित किया गया है । एनसीएल ने जयंत परियोजना के विस्तार करने के लिए मेढ़ौली में किसानों की भूमि अधिग्रहण की है जिसका मुआवजा दिया जा रहा है।