छिंदवाड़ा घोघरा वाटर फॉल में अचानक आई बाढ़, टापू पर फंसे दो परिवार को रेस्क्यू कर बचाया

छिंदवाड़ा घोघरा वाटर फॉल में अचानक आई बाढ़, टापू पर फंसे दो परिवार को रेस्क्यू कर बचाया

छिंदवाड़ा, 23 जून महाराष्ट्र के नागपुर से पिकनिक मनाने के लिए छिंदवाड़ा जिले के सौसर में पिपलानारायणवार स्थित घोघरा वाटर फॉल आए 2 परिवार बीती रात बाढ़ में घिर गए। फॉल में अचानक पानी आ गया और दोनों परिवार टापू पर ही फंस गये। करीब 3 घंटे चले रेस्क्यू के बाद देर रात 11 बजे सभी को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया। परिवार के सभी सदस्यों का स्वास्थ्य परीक्षण कराया गया।

जानकारी के अनुसार महाराष्ट्र के नागपुर से दो परिवार मंगलवार को पिकनिक मनाने के लिए पिपलानारायणवार से लगे घोघरा वाटर फाल आये थे। इस दौरान शाम के समय अचानक वाटर फाल में पानी आ गया और दोनों परिवार के करीब 12 सदस्य टापू पर ही फंस गये। इसके बाद चीख पुकार मच गई। परिवार जान बचाने के लिए टापू पर चढ़ गए। आसपास के लोगों ने पुलिस को सूचना दी। सूचना मिलते ही प्रशासनिक टीम ने मौके पर पहुंचकर पीपला और मोहगांव के तैराक बुलवाए। फंसे लोगों को रस्सी के सहारे निकालने का प्रयास किया गया, लेकिन पानी का तेज बहाव और अंधेरे की वजह से रेस्क्यू में थोड़ी मुश्किल हुई।

रात तकरीबन 10 बजे 4 लोगों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया। रात 11 बजे तक सभी को सुरक्षित निकाल लिया गया। रेस्क्यू कर विधाबाई पत्नी राजू गुर्जर, बादल पुत्र राजू गुर्जर, प्रिया पुत्री बादल गुर्जर, बारिभ पुत्र राजू गुर्जर, निकिता पत्नी बारिभ गुर्जर, चन्द्रजीत पुत्र किशोर तिरपुड़े, कोमल पत्नी चन्द्रजीत तिरपुड़े, आयांश पुत्र चन्द्रजीत तिरपुड़े, शिवानी पुत्री कैलाश पराने, यश पुत्र कैलाश पराने, ग्लेही पुत्री कैलाश पराने और कोकिला पत्नी संतोष दाऊषकर को बचाया गया। प्राथमिक स्वास्थ्य की जांच सौंसर अस्पताल में कराया गया।