लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासन अकादमी में 33 प्रशिक्षु आईएएस अधिकारी कोरोना संक्रमित

देहरादून, 21 नवम्बर (हि.स.)। देश भर से भारतीय प्रशासनिक सेवा के तहत चयनित सिविल सेवा के अधिकारियों को प्रशिक्षण देने वाली 95 वर्ष पुरानी उत्तराखंड के मसूरी स्थित लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासन अकादमी में 33 प्रशिक्षु आईएएस अधिकारी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इसके बाद अकादमी को दो दिन के लिए बंद कर दिया गया है।अकादमी में 30 नवम्बर तक सभी कक्षाएं केवल ऑनलाइन मोड में ही चलेंगी। अकादमी के अन्य प्रशिक्षु अधिकारियों और कर्मचारियों की भी कोरोना जांच कराई जा रही है।

देश की इस नामचीन व सबसे बड़ी लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासन अकादमी में भारतीय प्रशासनिक सेवा, भारतीय विदेश सेवा, भारतीय पुलिस सेवा और भारतीय वन सेवा से जुड़े प्रशिक्षु अधिकारी प्रशिक्षण लेते हैं। वर्तमान में यहां चल रहे 15 सप्ताह के फाउंडेशन कोर्स में भारतीय प्रशासनिक सेवा के तहत चयनित 428 प्रशिक्षु अधिकारी प्रशिक्षण ले रहे हैं। 33 प्रशिक्षु आईएएस अधिकारियों के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद शनिवार को 150 अन्य अधिकारियों व अकादमी के कर्मचारियों की कोरोना जांच भी कराई गई । इसके बाद अकादमी के पांच छात्रावासों को 14 दिन के लिए कन्टेनमेंट जोन बना दिया गया है। साथ ही अकादमी को अगले 48 घंटे के लिए पूरी तरह बंद कर दिया गया है।

संस्थान के निदेशक संजीव चोपड़ा ने मीडिया को बताया कि शुक्रवार को 33 प्रशिक्षु अधिकारियों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई। सभी को परिसर में ही बने कोविड केयर सेंटर में रखा गया है। अब प्रशिक्षु अधिकारियों को ऑनलाइन मोड में प्रशिक्षण दिया जा रहा है। इसके साथ ही प्रशिक्षु अधिकारियों के लिए पुस्तकालय में पढ़ने एवं मैस में खाने के अलग-अलग समय निर्धारित किए गए हैं। सभी को खाना कमरे में उपलब्ध कराया जाएगा।

एसडीएम मसूरी ने बताया कि संक्रमित मरीजों के संपर्क में आए लोंगों की जांच की जा रही है। इन संक्रमित लोंगों को रखने के लिए ट्रेनिग सेंटर के अंदर ही कोविड सेंटर बनाया गया है। यहां 13 अक्टूबर को अकादमी का 95वां स्थापना दिवस मनाया गया था।