हेलिकॉप्टर दुर्घटना : मरने वालों में झुंझुनू का कुलदीप सिंह भी शामिल

हेलिकॉप्टर दुर्घटना : मरने वालों में झुंझुनू का कुलदीप सिंह भी शामिल

झुंझुनू, 9 दिसंबर । तमिलनाडु के नीलगिरी क्षेत्र में कुन्नूर के जंगल में सीडीएस बिपिन रावत के हेलीकॉप्टर दुर्घटना में जान गंवाने वालों में राजस्थान के झुंझुनू जिले के सिंघाना कस्बे के निकट घरडाना खुर्द गांव का कुलदीप सिंह भी शामिल हैं। स्क्वाड्रन लीडर कुलदीप सिंह सीडीएस बिपिन रावत के हेलीकॉप्टर के सह पायलट थे। कुलदीप की दो वर्ष पहले ही शादी हुई थी।

स्क्वाड्रन लीडर कुलदीप 2013 में एयरफोर्स में भर्ती हुए थे। इससे पहले उन्होंने अपने पिता रणधीर सिंह राव जो भारतीय नौसेना से सेवानिवृत्त हो चुके हैं, के साथ रहकर मुंबई में ही बीएससी-आईटी की पढ़ाई की। फिर भारतीय वायु सेना में भर्ती हो गए थे। दो साल पहले ही 19 नवम्बर 2019 को उनकी शादी मेरठ में यशवनी ढाका के साथ हुई थी। उनकी एक बहन अभीता इंडियन कोस्ट गार्ड में डिप्टी कमांडेंट के पद पर कार्यरत है। उनकी मां कमला देवी ग्रहणी है। फिलहाल उनका परिवार जयपुर में रहता है।

जिले के घरडाना खुर्द में स्क्वाड्रन लीडर कुलदीप सिंह की मौत की खबर पहुंचने पर पूरे गांव में गमगीन माहौल है। घर पर रिश्तेदारों व ग्रामीणों का जुटना शुरू हो गया है। परिजनों की मानें तो कुलदीप का पार्थिव देह गुरुवार देर शाम तक यहां पहुंच सकता है। कुलदीप सिंह के चचेरे भाई राजेंद्र राव ने बताया कि उनका स्वभाव बहुत ही सरल व मिलनसार था कोई भी उनके पास जाता था तो इतना मन रखता था कि जाने को मन भी नहीं करता था। कुलदीप सिंह को क्रिकेट खेलने का शौक था। स्कूल लेवल तक क्रिकेट खेला था।

ग्रामीणों ने बताया कि कुलदीप पूरे गांव के लाडले थे। वे बच्चों को देश भक्ति की भावना का पाठ पढ़ाते थे। उनके पिता रणधीर सिंह राव भी नौ सेना से रिटायर्ड हैं। घरडाना खुर्द के सरपंच उम्मेद सिंह राव ने बताया कि लाडले को खोने का गम हर किसी को है। झुंझुनू जिला मुख्यालय स्थित शहीद स्मारक में विभिन्न संगठनों की ओर से सीडीएस बिपिन रावत सहित जान गंवाने वाले सभी सपूतों को श्रद्धांजलि दी जाएगी।