उत्तराखंड: अल्मोड़ा के चौबटिया में भारत-यूके संयुक्त सैन्य प्रशिक्षण में सेनाओं ने साझा किए अपने अनुभव

उत्तराखंड: अल्मोड़ा के चौबटिया में भारत-यूके संयुक्त सैन्य प्रशिक्षण में सेनाओं ने साझा किए अपने अनुभव

अल्मोड़ा,13 अक्टूबर । उत्तराखंड के अल्मोड़ा जिले के चौबटिया में भारत-यूके संयुक्त कंपनी स्तरीय सैन्य प्रशिक्षण अभ्यास अजेय वॉरियर का छठा संस्करण चल रहा है। यह 20 अक्टूबर तक चलेगा। इस दौरान दोनों देशों की सेनाओं ने प्रशिक्षण में एक -दूसरे से अपने-अपने अनुभव साझा किए।

इसमें भारतीय सेना की एक इन्फेंट्री कंपनी और युनाइटेड किंगडम सेना के सैनिक हिस्सा ले रहे हैं। दो सप्ताह तक चलने वाले इस सैन्य प्रशिक्षण में दोनों देशों के सैनिक अपनी सैन्य ताक़त और अपने-अपने देशों में विभिन्न सैन्य अभियानों के संचालन और विदेशी गतिविधियों के दौरान प्राप्त अनुभवों को साझा करेंगे।

यह अभ्यास मित्र विदेशी राष्ट्रों के साथ अंतर-संचालनियता और विशेषज्ञता साझा करने की पहल का हिस्सा है। यह संयुक्त सैन्य प्रशिक्षण द्विपक्षीय संबंधों को बेहतर बनाने में एक लंबा रास्ता तय करेगा और दोनों देशों के बीच दोस्ती के पारंपरिक बंधन को और मजबूत करने की दिशा में एक बड़ा कदम होगा। कार्यक्रम का समापन 20 अक्टूबर को होगा।

भारतीय थल सेना की मध्य कमान लखनऊ के पीआरओ डिफेंस कार्यालय की जानकारी के अनुसार भारत-यूके संयुक्त कंपनी स्तरीय सैन्य प्रशिक्षण का छठा संस्करण, अभ्यास अजेय वॉरियर चौबटिया (उत्तराखंड) में विगत सात अक्टूबर से शुरू हुआ है। इसका समापन 20 अक्टूबर को होगा। यह अभ्यास मित्र विदेशी राष्ट्रों के साथ अंतर-संचालनीयता और विशेषज्ञता साझा करने की पहल का हिस्सा है।

इस प्रशिक्षण के अंतर्गत दोनों देशों की सेना संयुक्त सैन्य अभियानों को अंजाम देने के लिए एक-दूसरे के हथियारों, उपकरणों, रणनीति, तकनीकों और प्रक्रियाओं से परिचित होंगी। इसके अलावा आपसी हित के विभिन्न विषयों जैसे कि संयुक्त शस्त्र अवधारणा, संयुक्त बल में अनुभवों को साझा करना, ऑपरेशन लॉजिस्टिक्स आदि पर विशेषज्ञ अकादमिक चर्चाओं की एक श्रृंखला भी आयोजित होगी। संयुक्त सैन्य प्रशिक्षण का समापन 48 घंटे के कठिन अभ्यास के साथ अर्द्ध-शहरी वातावरण में संयुक्त सैन्य अभियान चलाने में दोनों सेनाओं के प्रदर्शन को मान्यता प्रदान करने के लिए किया जाएगा।