चार विस क्षेत्रों में उपचुनाव : सुबह 9.30 बजे तक 14.66 फीसदी मतदान

चार विस क्षेत्रों में उपचुनाव : सुबह 9.30 बजे तक 14.66 फीसदी मतदान

अगरतला, 23 जून। त्रिपुरा की चार विधानसभा सीटों के लिए गुरुवार को उप चुनाव के लिए सुबह 7 बजे से मतदानन आरंभ हुआ है। पूर्व की तरह इस बार के उपचुनाव में भी मतदाताओं में खासा उत्सव देखा ज रहा है। भाजपा प्रत्याशी डॉ. माणिक साहा और डॉ. अशोक सिन्हा ने सुबह अपना मतदान किया। सुबह साढ़े नौ बजे तक 14.6 फीसदी मतदान हुआ।

गुरुवार को 1 लाख 89 हजार 32 मतदाता विभिन्न राजनीतिक दलों के 22 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे। भाजपा, कांग्रेस, वाम मोर्चा, तृणमूल कांग्रेस और निर्दलीय उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं।

भाजपा के दो उम्मीदवारों डॉ. माणिक साहा और डॉ. अशोक सिन्हा ने आज भारत केशरी डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के चित्र पर माल्यार्पण करने के बाद अपना मतदान किया। हालांकि, डॉ. माणिक साहा ने अपना वोट डालने से पहले लक्ष्मी नारायण मंदिर में पूजा की। उन्होंने अपनी पत्नी के साथ लाइन में खड़े होकर अपने मताधिकार का प्रयोग किया है। डॉ. अशोक सिन्हा ने भी सभी के साथ वोटिंग लाइन में खड़े होकर अपने मताधिकार का प्रयोग किया।

मतदान केंद्र पर मुख्यमंत्री को वोट डालने के लिए लाइन में खड़ा देखकर कई लोग हैरान रह गए। क्योंकि, 2018 से पहले त्रिपुरा में ऐसी कोई प्रथा नहीं थी। पूर्व मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देव ने इस प्रथा की शुरुआत की है। वर्तमान मुख्यमंत्री ने भी इसे बरकरार रखा है।

चार निर्वाचन क्षेत्रों में आज सुबह साढ़े नौ बजे तक 14.66 फीसदी मतदान हुआ। सबसे ज्यादा वोट 8 टाउन बाराडोवाली विधानसभा क्षेत्र में पड़े। चुनाव आयोग के मुताबिक, 6-अगरतला विधानसभा क्षेत्र में 15.29 फीसदी, 8-टाउन बारादावली विधानसभा क्षेत्र में 16.25 फीसदी, 46-सूरमा विधानसभा क्षेत्र में 13 फीसदी और 57-युवराजनगर विधानसभा क्षेत्र में 14 फीसदी मतदान हुआ है।

इस बीच, 6-अगरतला विधानसभा क्षेत्र के बूथ 5, 29 और 30 में ईवीएम में खराबी की सूचना मिली है। मतदाताओं को काफी देर तक लाइन में खड़ा रहना पड़ा। हालांकि, आयोग के अधिकारी ने बताया कि ईवीएम में सुधार के बाद मतदान शुरू हो गया है। अब तक मतदान शांतिपूर्ण रहा है। कुछ स्थानों से शिकायतें आ रही हैं। पश्चिम त्रिपुरा जिला पुलिस अधीक्षक जी रेड्डी ने कहा कि सभी आरोपों की जांच की जा रही है।