सपा की सूची पर भाजपा अध्यक्ष का तंज, यही 'बबुआ' का समाजवाद

सपा की सूची पर भाजपा अध्यक्ष का तंज, यही 'बबुआ' का समाजवाद

लखनऊ, 14 जनवरी (हि.स.)। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह ने उम्मीदवारों की सूची के हवाले समाजवादी पार्टी पर हमला बोला है। स्वतंत्रदेव सिंह ने शुक्रवार को ट्वीट कर कहा कि यह नई सपा नहीं है। यह पुरानी वाली ही सपा है। सपा के उम्मीदवारों की सूची यह साबित करती है।

भाजपा अध्यक्ष ने लिखा कि सपा ने अपने उम्मीदवारों की पहली ही सूची से साबित कर दिया है कि यह नई नहीं, वही सपा है। यह दंगाराज वाली, भ्रष्टाचार वाली, तुष्टीकरण वाली, पलायन को शह देने वाली और माफियाओं को संरक्षण देने वाली सपा है। यही बबुआ का समाजवाद है। भाजपा ने इसी बहाने सपा मुखिया पर हमला बोला है। उन्होंने अपने इस ट्वीट के जरिए यह कहने की कोशिश की है कि सपा ने जिन लोगों को टिकट दिया है, उनमें कई दंगों के आरोपी हैं। सपा की सूची में भाजपा को तुष्टीकरण भी दिखाई दे रहा है।

सपा-रालोद गठबंधन ने गुरुवार को 29 उम्मीदवारों की सूची जारी की, जिसमें नौ टिकट मुस्लिम वर्ग को दिया गया है। सपा ने कैराना से नाहिद हसन, किठौर से शाहिद मंसूर, मेरठ से रफीक अंसारी, धौलाना से असलम चौधरी, कोल से सलमान सईद, अलीगढ़ से जफर अहमद को उम्मीदवार बनाया है। वहीं रालोद ने बागपत से अहमद हमीद, बुलंदशहर से हाजी यूनुस, स्याना से दिल नवाज खान को प्रत्याशी बनाया है। इस प्रकार सपा-रालोद गठबंधन ने नौ मुस्लिम चेहरों को उम्मीदवार बनाया है।