दिलीप घोष का विवादित बयान, कहा : पेट्रोल डालकर देखो तृणमूल नेता कैसे दौड़ते हैं

दिलीप घोष का विवादित बयान, कहा : पेट्रोल डालकर देखो तृणमूल नेता कैसे दौड़ते हैं

कोलकाता, 11 मई । भारतीय जनता पार्टी के अखिल भारतीय उपाध्यक्ष और पूर्व प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष एक बार फिर बेलगाम हो गए हैं। बुधवार को उन्होंने तृणमूल नेताओं को निशाने पर लेते हुए कहा कि एक बार उनके पीछे पेट्रोल डालकर देखिए किस तरह से दौड़ लगाते हैं। बांकुड़ा में भय मुक्त बंगाल और हिंसा मुक्त राजनीति की मांग पर पदयात्रा का आयोजन पार्टी की ओर से किया गया था। इसका नेतृत्व दिलीप घोष कर रहे थे। रैली के समापन पर शहर के मचानतला में आकाश मुक्त मंच में एक जनसभा भी हुई। यहां दिलीप घोष ने संबोधन किया था। उन्होंने कहा कि पेट्रोलियम उत्पादों की बढ़ी हुई कीमतों को लेकर तृणमूल कांग्रेस लगातार माहौल बनाने की कोशिश कर रही है लेकिन पश्चिम बंगाल में आलू के सर्वाधिक उत्पादन के बावजूद बाजार में आलू की कीमतें आसमान छू रही हैं। उन्होंने कहा कि लोग तो पेट्रोल नहीं खाते हैं आलू खाते हैं। उन्होंने कहा कि मजा देखनी है तो एक बार तृणमूल नेताओं के पीछे पेट्रोल डालकर देखिए किस तरह से दौड़ते हैं।

दिलीप के शब्दों में, पहले आलू की कीमत 15 से 20 रुपये प्रति किलो थी। अब उस आलू की कीमत बढ़कर 35 से 40 रुपये प्रति किलो हो गई है। आलू अब रूस या यूक्रेन से नहीं आता! उन्होंने चुटकी लेते हुए कहा, जहां आलू की कीमत 100 फीसदी बढ़ी है, वहीं 90 रुपये का पेट्रोल 20 से 25 फीसदी बढ़कर 115 रुपये हो गया है।

दिलीप ने तर्क दिया, आलू तो सभी खाते हैं। जब हम छोटे थे तो कुत्ते की पीठ पर पेट्रोल डालते थे। अब तृणमूल नेताओं को पकड़ो और उनके पीछे थोड़ा पेट्रोल डाल दिजिए। फिर देखिए मजा कैसे दौड़ते हैं।

तृणमूल ने दिलीप के बयान की कड़ी निंदा की है। राज्य पंचायत विभाग में पूर्व राज्य मंत्री और तृणमूल के बांकुड़ा जिले के अध्यक्ष श्यामल सांत्रा ने कहा, बंगाल वासियों ने इस तरह की अश्लील टिप्पणी करने के लिए भाजपा नेताओं को खारिज कर दिया है। एक के बाद एक वोट का नतीजा खुद ब खुद बयां करता है। इस तरह की अभद्र टिप्पणी करने वाले दिलीप घोष के खिलाफ सख्त प्रशासनिक कार्रवाई की जाए। हिन्दुस्थान समाचार /ओम प्रकाश /गंगा