अखिलेश यादव से मिलना बसपा के चार नेताओं को पड़ा भारी, पार्टी से निष्कासित

अखिलेश यादव से मिलना बसपा के चार नेताओं को पड़ा भारी, पार्टी से निष्कासित

लखनऊ/इटावा, 24 नवंबर । समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से इटावा में बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के चार पदाधिकारियों को मिलना भारी पड़ गया। बसपा प्रमुख मायावती के निर्देश पर पार्टी विरोधी गतिविधियों के चलते पूर्व जिलाध्यक्ष समेत चार पदाधिकारियों को निष्कासित कर दिया गया है।

मैनपुरी लोकसभा सीट पर हो रहे उपचुनाव के लिए पांच दिसंबर को मतदान होना है। चुनाव प्रचार के बीच अखिलेश यादव से बसपा के पूर्व जिलाध्यक्ष एवं जसवंत नगर विधानसभा के पूर्व प्रत्याशी बी.पी. सिंह, जसवंत नगर विधानसभा क्षेत्र के अध्यक्ष विद्या प्रकाश निगम, इटावा मंडल इंचार्ज रविंद्र सिंह सोनू और जसवंत नगर विधानसभा क्षेत्र के सचिव नगेन्द्र जाटव ने मुलाकात की। सपा अध्यक्ष के साथ मुलाकात की बसपा पदाधिकारियों की फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो गई। इसका संज्ञान लेते हुए बसपा प्रमुख मायावती ने चारों पदाधिकारियों को पार्टी विरोधी गतिविधियों के चलते निष्कासित करने का आदेश दिया। इटावा के बसपा जिलाध्यक्ष मनोज दोहरे ने चारों नेताओं को पार्टी से निष्कासित कर दिया।