जनवरी 2020 में अगर विदेशी फ्लाइट्स रोकी होती तो आज ये हालात न होते : गहलोत

जनवरी 2020 में अगर विदेशी फ्लाइट्स रोकी होती तो आज ये हालात न होते : गहलोत

जयपुर, 05 जनवरी । मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राजस्थान समेत देशभर में मिल रहे कोरोना के नए स्ट्रेन से पीडि़त मरीजों को लेकर केन्द्र की मोदी सरकार को चेताया है। मुख्यमंत्री ने ब्रिटेन से दोबारा उड़ानें शुरु करने के फैसले पर केन्द्र सरकार को दोबारा विचार करने की सलाह दी है।

गहलोत ने चेताया है कि नए स्ट्रेन को हल्के में लिया तो कही पहले जैसी स्थिति न हो जाए, जो लॉकडाउन में हुई थी।

मुख्यमंत्री ने मंगलवार को सोशल मीडिया पर केन्द्र सरकार को चेताया। उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि ब्रिटेन में मिले नए कोरोना स्ट्रेन के मामले भारत में बढ़ते जा रहे हैं। 7 जनवरी को ब्रिटेन से दोबारा फ्लाइट्स शुरू करने के फैसले पaर भारत सरकार को पुनर्विचार करना चाहिए। अगर जनवरी 2020 में कोरोना की शुरुआत में विदेशों से आने वाली फ्लाइट्स को रोका गया होता तो आज ये स्थिति नहीं बनती। भारत सरकार को सुनिश्चित करना चाहिए कि ब्रिटेन से फ्लाइट चलने के बाद कोरोना के नए स्ट्रेन से पहले जैसी स्थिति न बन जाए।

ब्रिटेन में मिले कोरोना के नए स्ट्रेन के बाद वहां की सरकार ने पूरे ब्रिटेन में लॉकडाउन लगा दिया है। भारत में भी ब्रिटेन से सफर करके आए कई यात्रियों में कोरोना के नए स्ट्रेन की पुष्टि हुई है। राजस्थान के श्रीगंगानगर में भी सोमवार को एक ही परिवार के 3 सदस्यों में नए स्ट्रेन की पुष्टि हुई है। ब्रिटेन में कोरोना वायरस के जिस नए स्वरूप का पता चला है, वह कई देशों तक पहुंच चुका है। यह 70 प्रतिशत ज्यादा तेजी से फैल रहा है।