भारत जोड़ो यात्रा के काउंटर में भाजपा 200 विधानसभा क्षेत्रों में निकालेगी जन आक्रोश यात्रा, जिला प्रभारी नियुक्त

भारत जोड़ो यात्रा के काउंटर में भाजपा 200 विधानसभा क्षेत्रों में निकालेगी जन आक्रोश यात्रा, जिला प्रभारी नियुक्त

जयपुर, 19 नवंबर । राजस्थान में गहलोत सरकार के खिलाफ भाजपा की ओर से एक दिसम्बर से निकाली जाने वाली जन आक्रोश यात्रा को लेकर पार्टी ने जिला प्रभारी नियुक्त किए हैं। यह यात्रा प्रदेश के सभी 200 विधानसभा क्षेत्रों से होकर गुजरेगी।

भाजपा ने जन आक्रोश यात्रा के लिए जिला प्रभारियों की घोषणा कर दी है। इसमें बीकानेर शहर से माधराम चौधरी, बीकानेर देहात से ओपी महिंद्रा, श्रीगंगानगर से अजयपाल सिंह, हनुमानगढ़ से दशरथ सिंह शेखावत, चूरू से सुरेंद्र पाल सिंह टीटी, जयपुर शहर से मदन दिलावर, जयपुर दक्षिण से गजेंद्र सिंह खींवसर, जयपुर उत्तर से मोहनलाल गुप्ता, सीकर से राज्यवर्धन सिंह राठौड़, झुंझुनूं से सुमेधानंद सरस्वती, अलवर उत्तर से रामलाल शर्मा, अलवर दक्षिण से रामस्वरूप कोली, दौसा से घनश्याम तिवाड़ी, भरतपुर से मुकेश दाधीच, धौलपुर से ज्ञानदेव आहूजा, करौली से किरोडी लाल मीणा, सवाई माधोपुर से प्रभु लाल सैनी और कन्हैया लाल मीणा को जिम्मा दिया गया है।

जबकि, अजमेर शहर और अजमेर देहात से प्रसन्न चंद्र मेहता, टोंक से काली चरण सर्राफ, नागौर शहर और नागौर देहात से अरुण चतुर्वेदी, भीलवाड़ा से ताराचंद जैन, जोधपुर शहर से वासुदेव देवनानी, जोधपुर उत्तर और दक्षिण से करण सिंह नेतरा, पाली से राजेंद्र गहलोत, जालोर से प्रताप पुरी महाराज, सिरोही से पुष्प जैन, बाड़मेर से पीपी चौधरी, बालोतरा से घनश्याम डागा, जैसलमेर से सेला राम सारण, उदयपुर उत्तर और देहात से हेमराज मीणा, राजसमंद से कालू लाल गुर्जर, बांसवाड़ा से सूर्या अहारी, डूंगरपुर से चुन्नीलाल गरासिया, चित्तौड़गढ़ से युधिष्ठिर कुमावत, प्रतापगढ़ से धर्मेंद्र राठौड़, कोटा शहर कोटा देहात से सीपी जोशी, बारां से अजीत मेहता, बंदी से सत्यनारायण चौधरी और झालावाड़ से चंद्रकांता मेघवाल को जिले की जिम्मेदारी दी गई है।

भाजपा की ओर से कांग्रेस और राहुल गांधी को पिछले चार सालों से एक ही मुद्दे पर घेरा जा रहा है। किसान कर्ज माफी के मुद्दे पर भाजपा की ओर से दलील दी जाती रही है कि यदि राहुल गांधी एक से 10 तक की गिनती गिन कर कर्ज माफ करने का वादा नहीं करते तो फिर भाजपा सत्ता में होती। राहुल गांधी ने पहले किसानों को भरोसे में लिया और फिर मौजूदा हश्र सबके सामने है।

उल्लेखनीय है कि अगले साल सूबे में विधानसभा चुनाव होना है। ऐसे में राहुल गांधी की जब भारत जोड़ो यात्रा राजस्थान में प्रवेश करेगी तो स्वभाविक तौर पर कांग्रेस के कार्यकर्ताओं में एक जोश का संचार होगा। भाजपा भी पूरी प्लानिंग के साथ गहलोत सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलने जा रही है। भाजपा के नेता राज्य सरकार को कानून-व्यवस्था, अपराध, दुष्कर्म की घटनाओं, पेपर लीक प्रकरण, युवाओं में बेरोजगारी, पेट्रोल-डीजल में वैट, संविदा कर्मचारियों के स्थायीकरण जैसे अनेक मुद्दों पर घेरने की रणनीति बना रहे हैं।

भाजपा ने जन आक्रोश यात्रा के जरिए 200 विधानसभा क्षेत्रों का रोड मैप तैयार किया है। इसके तहत पार्टी के तीन लाख कार्यकर्ता पूरी सक्रियता के साथ यात्रा में शामिल होंगे, जो इस अभियान में लगकर अन्य कार्यकर्ताओं व लोगों को कांग्रेस के खिलाफ माहौल बनाएंगे। राजस्थान में राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा के दौरान भाजपा सभी 200 विधानसभा क्षेत्रों में जन आक्रोश यात्रा निकालेगी। इस यात्रा का प्रारूप प्रदेश संगठन महामंत्री चंद्रशेखर ने तैयार किया है। वहीं, अरुण सिंह और सतीश पूनियां समेत तीनों नेताओं की इसको लेकर आलाकमान से चर्चा भी हुई है। बीएल संतोष की मंत्रणा के बाद आलाकमान ने भी यात्रा को हरी झंडी दे दी गई हैं।

यात्रा के तहत प्रत्येक विधानसभा में 100 से ज्यादा चौपाल लगेंगे, जिसमें अलग-अलग स्थानों पर कम से कम 8 से 10 चौपाल और इतने ही वेलकम पॉइंट होंगे। साथ ही विधानसभा क्षेत्र में 100 के करीब स्वागत कार्यक्रम होंगे। सभी 200 विधानसभा क्षेत्रों में 200 रथ निकलेंगे, जो रोजाना डेढ़ सौ से 200 किलोमीटर की यात्रा करेंगे। कुल 60000 किलोमीटर की यात्रा का लक्ष्य है। इस दौरान महिलाओं, अनुसूचित जाति और युवाओं पर विशेष फोकस होगा। इस यात्रा में प्रदेश प्रभारी अरुण सिंह, सह प्रभारी विजया रहाटकर, प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनियां, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, वरिष्ठ नेता ओमप्रकाश माथुर, नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया, उप नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़, प्रदेश संगठन महामंत्री चंद्रशेखर, केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत, कैलाश चौधरी, अर्जुन राम मेघवाल, कोर कमेटी के अन्य सदस्यों में सीपी जोशी, कनक मल कटारा, अलका सिंह गुर्जर, राजेन्द्र गहलोत, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अरुण चतुर्वेदी, अशोक परनामी, वरिष्ठ नेता किरोड़ीलाल मीणा, राज्यवर्धन सिंह, दिया कुमारी, मदन दिलावर, वासुदेव देवनानी, रामलाल शर्मा समेत अन्य नेता सक्रिय रहेंगे।