आरटीडीसी अध्यक्ष ने की लोकसभाध्यक्ष एवं केंद्रीय मंत्रियों से भेंट

आरटीडीसी अध्यक्ष ने की लोकसभाध्यक्ष एवं केंद्रीय मंत्रियों से भेंट

नई दिल्ली/जयपुर, 4 अगस्त। राजस्थान पर्यटन विकास निगम के अध्यक्ष एवं राज्यमंत्री धर्मेंद्र राठौड़ ने गुरुवार को लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला, केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव और केंद्रीय संस्कृति एवं पुरातत्व विभाग मंत्री अर्जुन राम मेघवाल से नई दिल्ली में भेंट कर तीर्थ राज पुष्कर में ब्रह्मा मंदिर के जीर्णोद्धार करवाने के साथ-साथ शाही रेलगाड़ी पैलेस ऑन व्हील्स के संचालन से संबंधित प्रक्रियाओं में शिथिलता का आग्रह किया।

राठौड़ ने गुरुवार को संसद भवन में अर्जुन राम मेघवाल से भेंट के दौरान उन्हे अवगत करवाया कि पूर्व में भी गायत्री शक्तिपीठ द्वारा निकाली गई पांच दिवसीय दशम पुष्कर अखंड अरण्य तीर्थ प्रदक्षिणा पदयात्रा के दौरान उनसे टेलीफोन पर वार्ता कर विश्व में एकमात्र ब्रह्मा मंदिर पुष्कर के जीर्ण-शीर्ण अवस्था के बारे में जानकारी दी थी। उन्होंने बताया कि भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग को बार-बार अवगत कराने के बावजूद विभाग द्वारा जीर्णोद्धार नहीं करवाया जा रहा है एवं राजस्थान सरकार जीर्णोंद्धार करवाने के लिए तैयार है, परंतु भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग स्वीकृति प्रदान नहीं कर रहा है और ना ही अनापत्ति प्रमाण पत्र दे रहा है।

राठौड़ ने बताया की केंद्रीय मंत्री मेघवाल ने हमारे आग्रह पर पुष्कर के ब्रह्मा मंदिर के जीर्णोद्धार की कार्रवाई कर निर्माण कार्य के टेंडर आमंत्रित किए जाने की प्रक्रिया आरंभ करने का आश्वासन दिया हैं।

निगम अध्यक्ष राठौड़ ने बताया कि राज्य सरकार की बजट घोषणा के अनुसार पुष्कर सरोवर में गंदे पानी की आवक को रोकने, पुष्कर के विकास, सुंदरीकरण आधुनिकरण एवं परिक्रमा मार्ग को स्वच्छ सुंदर एवं सुगम बनाने के लिए कृत संकल्प है। उन्होंने बताया कि ब्रह्मा मंदिर के समस्त परकोटे का संरक्षण कार्य चरणबद्ध तरीके से संपादित कराने के साथ् ही ब्रह्मा मंदिर परिसर में आवश्यकतानुसार प्लास्टर एवं रिपेयरिंग का कार्य करने, मंदिर परिसर में स्थित संरचना का छत एवं दीवारों का प्लास्टर कार्य करवाए जाने अपेक्षित हैं।

राठौड़ ने बताया कि मुख्य गर्भ ग्रह के दाई और जर्जर हो चुके निर्माण को सुरक्षा की दृष्टि से हटवाने, अंबे माता मंदिर परिसर में दरार युक्त दीवारों को मरम्मत करवाने, वृद्ध एवं दिव्यांग दर्शनार्थियों के लिए गोशाला गेट से अंबे माता मंदिर की ओर रैम्प का निर्माण एवं एस्केलेटर का निर्माण करवाने, धूप एवं बरसात की स्थिति में दर्शनार्थियों के सुविधा मंदिर के सामने सीढियों पर फाइबर शीट लगवाने, बाहरी दीवारों का प्लिंथ लेवल प्रोटेक्शन कार्य करवाने, मुख्य मंदिर के बाई ओर जीर्ण शीर्ण हो चुके प्रसाधन कक्ष एवं जनरेटर कक्ष को पूर्ण रूप से हटवाएं जाने आवश्यक है।

उन्होंने बताया कि मंदिर की सीढ़ियों के पास स्थित श्री रघुनाथ मंदिर का मरम्मत कार्य, मंदिर परिसर में स्थित शौचालय एवं गंदे पानी की निकासी के लिए सीवरेज से जोड़ने का कार्य, गौशाला की उत्तम व्यवस्था के लिए खैलियों एवं दीवारों की मरम्मत का कार्य, मंदिर के सामने एवं गौशाला की ओर 14 कमरे एवं चारा गोदाम की दीवारों की मरम्मत का कार्य, मंदिर के सामने लॉकर रूम की छत पर एवं दीवारों की मरम्मत का कार्य, लॉकर रूम में दर्शनार्थियों की सुविधा के लिए लेटबाथ का निर्माण, एंट्री प्लाजा के मुख्य द्वार की ओर स्थित दीवार की ऊंचाई कम होने से सुरक्षा के मद्देनजर कांटेदार तार फेंसिंग लगाने, एंट्री प्लाजा को आम जनता एवं श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए खोला जाना जाकर गार्डन से मंदिर का निर्माण कार्य किए जाएंगे।

धर्मेंद्र राठौड़ ने अपने दिल्ली प्रवास के दौरान रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव से मुलाकात कर राजस्थान पर्यटन विकास निगम की फ्लैगशिप योजना के तहत चलने वाली विश्व विख्यात पैलेस ऑन व्हील्स के सफल परिचालन के लिए अनुबंध को शीघ्र संपादित करने के लिए और इस ऐतिहासिक एवं महत्वपूर्ण ट्रेन के सफल संचालन के लिए भारत गौरव ट्रेन पॉलिसी में शिथिलता प्रदान करने की मांग करते हुए आग्रह किया कि इस हेरिटेज ट्रेन को पुरानी पॉलिसी के तहत ही चलाने की स्वीकृति दी जाए ताकि देश विदेश से आए पर्यटकों का समुचित ध्यान रखा जा सके।

निगम अध्यक्ष राठौड़ ने बताया कि उक्त सभी मांगों पर लोकसभाध्यक्ष ओम बिरला एवं केन्द्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव और अर्जुन राम मेघवाल ने शीघ्र उच्च स्तरीय कार्रवाई करने का आश्वासन दिया। इस मुलाकात के दौरान निगम अध्यक्ष राठौड़ के साथ राजस्थान फाउंडेशन के आयुक्त धीरज श्रीवास्तव भी मौजूद रहे।