अपडेट....अजमेर में बिजली संकटः शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में प्रतिदिन होगी कटौती

अपडेट....अजमेर में बिजली संकटः शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में प्रतिदिन होगी कटौती

अजमेर, 8 अक्टूबर। राज्य में गहराए विद्युत संकट के बीच अजमेर विद्युत वितरण निगम ने युद्ध स्तर पर तैयारी शुरू कर दी है। डिस्कॉम ने शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में पीक आवर्स में कटौती घोषित कर दी है। डिस्कॉम के सभी कार्यालयों में एयर कंडीशनर चलाने पर रोक के साथ ही विद्युत अपव्यय रोकने के कड़े निर्देश दिए गए हैं। निगम व्यापक स्तर पर प्रचार प्रसार के साथ ही 55 लाख उपभोक्ताओं को बिजली बचत का संदेश भेजेगा।

अजमेर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड के प्रबंध निदेशक वी एस भाटी ने बताया कि संपूर्ण देश में विभिन्न थर्मल प्लांटों में कोयले की कमी होने से बिजली का उत्पादन कम हो रहा है। इससे राजस्थान में भी बिजली का संकट पैदा हुआ है। ऊर्जा विकास निगम के अधिकारी एवं इंजीनियर लगातार बिजली एक्सचेंज की मॉनिटरिंग कर रहे है, जिससे इस समस्या का समाधान जल्द से जल्द हो सके।

डिस्कॉम एमडी भाटी ने बताया कि अजमेर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड के सभी शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में अब प्रतिदिन बिजली की कटौती की जाएगी। शहरी क्षेत्रों के तहत अजमेर जिले में प्रातः 7 से 9 सीकर में प्रातः 8 से 10, उदयपुर में प्रातः 8 से 10, झुंझुनू में प्रातः 9 से 11, नागौर में प्रातः 9 से 11, भीलवाड़ा में प्रातः 10 से 12, चित्तौड़गढ़ में सांय 3 से 5, बांसवाड़ा में सांय 3 से 5, राजसमंद में सांय 4 से 6, प्रतापगढ़ में सांय 4 से 6 तथा डूंगरपुर में सांय 4 से 6 तक बिजली की कटौती की जाएगी। इसके अतिरिक्त डिस्कॉम क्षेत्र के सभी ग्रामीण क्षेत्रों में प्रतिदिन 6 घंटो की बिजली कटौती संभावित है। इसके पीक आवर्स शाम को 6 से रात 10 बजे के बीच एक से दो घण्टे की कटौती होगी।

भाटी ने डिस्कॉम के सभी कार्यालयों में एयर कंडीशनर चलाने पर रोक के साथ ही विद्युत अपव्यय रोकने के कड़े निर्देश दिए है। उन्होंने सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों को निर्देश दिए कि बिजली संकट को देखते हुए अपने कार्यालयों में एयर कंडीशनर और अन्य उपकरण जिनमें ज्यादा बिजली की खपत होती है उन्हें बंद रखें। उन्होंने सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों से अपने घरों में भी एयर कंडीशनर और अन्य उपकरण बंद रखने की अपील की जिससे समाज के सामने एक बेहतरीन उदाहरण पेश हो सके। भाटी ने अन्य सरकारी विभागों एवं आमजन से भी इस संकट के बीच विद्युत के विवेकपूर्ण इस्तेमाल की अपील की।