शिमला में मौसम की पहली बर्फबारी, पर्यटकों के चेहरे खिले

शिमला में मौसम की पहली बर्फबारी, पर्यटकों के चेहरे खिले

बर्फबारी से कई सड़कें बंद

उज्ज्वल शर्मा

शिमला, 28 दिसम्बर । हिमाचल प्रदेश में मौसम ने करवट ली है। राज्य के पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी और मैदानों में बारिश होने से मौसम सर्द हो गया है। लोकप्रिय पर्यटन स्थल शिमला में रविवार देर रात इस मौसम का पहला हिमपात हुआ।

इस पर्यटक स्थल पर क्रिसमस के बाद बर्फबारी न होने से पर्यटक काफी मायूस थे। बर्फबारी की चाह में बड़ी तादाद में सैलानी अभी भी शिमला में डेरा डाले हुए हैं। वीक एंड पर रविवार देर शाम बर्फबारी शुरू होते ही इनके चेहरे खिल गए। रात भर बर्फबारी के दौर चला। लोग सुबह नींद से जागे तो पूरा शहर बर्फ की चादर में लिपटा मिला। खाली पड़ी जगह और घरों की छतों पर बर्फ की मोटी चादर बिछी हुई थी। सड़कों पर खड़े वाहन बर्फ से ढके हुए मिले।

राजधानी में करीब एक से दो इंच तक बर्फबारी हुई है। शिमला में विंटर सीजन का यह पहला हिमपात है। पिछले वर्ष 13 दिसंबर को मौसम की पहली बर्फबारी हुई थी। शिमला से सटे पर्यटक स्थलों कुफरी, नारकंडा और मशोबरा में भी भारी हिमपात हुआ है। नारकंडा में दो इंच, कुफरी के खिड़की में चार इंच और खड़ापत्थर में छह इंच के करीब बर्फबारी हुई है।

भारी हिमपात से नेशनल हाइवे-5(शिमला-रामपुर) समेत शिमला शहर की अधिकांश अंदरूनी सड़कें अवरुद्ध हो गई हैं। अप्पर शिमला का जिला मुख्यालय से सम्पर्क कट गया है। ढली के आगे अप्पर शिमला की तरफ जाने वाली तमाम सड़कें बर्फबारी से बंद हैं। कुफरी और फागु में कई पर्यटक वाहन बर्फ में फंस गए हैं। हालांकि कालका-शिमला एनएच और शिमला-बिलासपुर एनएच पर वाहनों की आवाजाही जारी है। जिला प्रशासन ने अवरुद्ध सड़कों को बहाल करने के लिए मशीनरी लगा दी है। राजधानी की अंदरूनी सड़कों के दोपहर तक बहाल होने का अनुमान है।

एसपी शिमला मोहित चावला ने सोमवार को बताया कि कुफरी, फागु, नारकंडा, खड़ापत्थर और चौपाल में भारी मात्रा में बर्फ गिरने से वाहनों की आवाजाही बंद है। इन क्षेत्रों में बर्फबारी में फंसे वाहनों को निकालने की कोशिशें की जा रही हैं। उन्होंने कहा कि शिमला शहर के ढली, मशोबरा, संजोली, लक्कड़ बाजार, नवबहार व छोटा शिमला की सड़कों पर भी बर्फ जमी है, जिसे हटाने का काम प्रगति पर है।

उधर, राज्य पथ परिवहन निगम से मिली जानकारी के मुताबिक अप्पर शिमला में निगम की तीन बसें बर्फबारी में फंस गई हैं। रोहड़ू और चौपाल उपमंडल के लिए सोमवार सुबह बसें नहीं भेजी गईं, जबकि रामपुर के लिये बसन्तपुर के रास्ते बसों को भेजा जा रहा है।

इस बीच मौसम विज्ञान केंद्र शिमला के निदेशक मनमोहन सिंह ने बताया कि पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से राज्य में बारिश और बर्फबारी हुई है। उन्होंने कहा कि सोमवार को भी पूरे प्रदेश में मौसम खराब रहेगा। जबकि मंगलवार से मौसम के साफ रहने का अनुमान है।