भीषण गर्मी से राहत दिलाएंगे बादल, इस बार जल्दी आ रहा मानसून

भीषण गर्मी से राहत दिलाएंगे बादल, इस बार जल्दी आ रहा मानसून

कानपुर, 13 मई । मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि इस बार साउथवेस्ट मानसून जल्दी आ रहा है। 15 मई को अंडमान निकोबार और इससे जुड़े बंगाल की खाड़ी इलाके में बारिश हो सकती है। असम और मेघालय में 12 से 16 मई के बीच भारी बारिश हो सकती है। यह बातें शुक्रवार को चन्द्रशेखर आजाद कृषि प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के मौसम वैज्ञानिक डा. एस एन सुनील पाण्डेय ने कही।

उन्होंने बताया कि सामान्य तौर पर एक जून को मानसून केरल पहुंचता है। साउथवेस्ट मॉनसून के बारे में मौसम विभाग ने कहा कि अंडमान निकोबार द्वीपसमूह में हल्की से मध्यम वर्षा होगी। 14 से 16 मई तक कई जगहों पर भारी बारिश भी हो सकती है। दक्षिण अंडमान में 60 किमी तक की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं। असम और मेघालय में 12 से 16 मई के बीच भारी बारिश हो सकती है। अरुणाचल प्रदेश में 13 से 16 मई तक कई जगहों पर हल्की और कुछ जगहों पर मध्यम वर्षा होने का अनुमान है। वहीं, तेलंगाना, नॉर्थ इंटीरियर कर्नाटक, तमिलनाडु, पुडुचेरी और केरल में छिटपुट वर्षा हो सकती है।

मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार, विस्तारित पूर्वानुमानों में सतत रूप से समय से पूर्व मानसून आने की अनुकूल परिस्थितियां बनने और इसके केरल के ऊपर और फिर उत्तर की ओर बढ़ने के संकेत मिले हैं। समय से पहले मानसून आने से देश के अधिकतर हिस्सों में लोगों को राहत मिलेगी जो पिछले एक पखवाड़े से अधिक समय से भीषण गर्मी से बेहाल हैं। सामान्य रुप से केरल में मानसून का आगमन एक जून को होता है।

मौसम विभाग का कहना है कि अगले पांच दिन अंडमान निकोबार द्वीपसमूह में हल्की से मध्यम बारिश होने का अनुमान है। द्वीपसमूह में 14 से 16 मई के दौरान कुछ स्थानों पर भारी बारिश होने की संभावना है। विभाग के अनुसार, 15 और 16 मई को दक्षिण अंडमान सागर में हवा 40 से 60 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलने की संभावना है।