आईएसएल-7 : ओडिशा को हराकर जीत की पटरी पर लौटना चाहेगी बेंगलुरू

आईएसएल-7 : ओडिशा को हराकर जीत की पटरी पर लौटना चाहेगी बेंगलुरू

गोवा, 24 जनवरी (हि.स.) । बीते सात मैचों के जीत के लिए तरस रही पूर्व चैम्पियन बेंगलुरू एफसी को रविवार को फातोर्दा के जवाहर लाल नेहरू स्टेडियम में ओडिशा एफसी से भिड़ना है। ओडिशा की टीम तालिका में सबसे नीचे है और उसका मनोबल भी काफी नीचे है। ऐसे में बेंगलुरू के पास उसे हराकर जीत की पटरी पर लौटने का मौका है। बेंगलुरू के लिए जीत बहुत जरूरी है क्योंकि उसकी मौजूदा स्थिति सही नहीं है।

यह टीम 12 मैचें के बाद 16 अंकों के साथ अंक तालिका में सातवें स्थान पर है। उसके खाते में पांच हार आई है। बीते मैच में उसे केरला ब्लास्टर्स के हाथों 1-2 से हार मिली थी। बेंगलुरू ने अपने मुख्य कोच चार्ल्स कुआड्राट के जाने के बाद पहला मैच खेला और हार गई।

अंतरिम कोच नौशद मूसा टीम को जीत की पटरी पर नहीं लेकर आ सके। आलम यह है कि बीते छह मैचों में से पांच में उसकी हार हुई है। अगले मैच को लेकर मूसा को काफी उम्मीदे हैं। मूसा ने कहा, एक जीत हमें तीन अंक देगी और साथ ही हमें तालिक में ऊपर ले जाएगी। यह सिर्फ एक जीत का मामला है। एक जीत के बाद हमारा पूरा डायनामिक्स बदल जाएगा।

बेंगलुरू के अभी भी प्लेआॅफ मे जाने की पूरी उम्मीद है। इस पर मूसा ने कहा, यकीनन। वैसे अंक तालिका में स्थान के हम आदी नहीं रहे हैं। हमारे खिलाड़ी जानते हैं कि हर मैच कितना अहम ६ै और हम सकारात्मक रहते हुए आगे के मैचों में अपना 100 फीसदी देंगे और तीन अंक हासिल करेंगे।

ओडिशा की हालत और भी खराब है। इस टीम को 12 मचों में अब तक सिर्फ एक जीत मिली है। उसने चार मैच पहले केरला ब्लास्टर्स को 4-2 से हराया था और फिर से बुरे दौर में लौट गई। हालांकि उसने अपने पिछले मैच में मजबूत हैदराबाद एफसी को 1-1 से बराबरी पर रोका था।

कोच स्टुअर्ट बॉक्सटर की टीम सीजन का दूसरा मैच जीतने का प्रयास करेगी लेकिन इसके लिए अपना श्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा। बॉक्सटर को भी उम्मीद है कि उनकी टीम प्लेआॅफ में जाने की उम्मीदों को जिंदा रख सकती है।

बॉक्सटर ने कहा, हमारे पास एटीकेएमबी जैसे बड़े क्लब को हराने का मौका था। हमें अब हर मैच में डिफेंस को मजबूत रखते हुए अपना खेल खेलते हुए मौकों को भुनाना होगा। हम अगर यह करने में सफल रहे तो फिर हमें जीत से कोई नहीं रोक सकता। मैं समझता हूं कि हमने यह कई बार किया है और मजबूत टीमों के खिलाफ भी अच्छा खेले हैं।