मुख्यमंत्री योगी ने स्वतंत्रता दिवस पर आजादी के शहीदों को दी श्रद्धांजलि

मुख्यमंत्री योगी ने स्वतंत्रता दिवस पर आजादी के शहीदों को दी श्रद्धांजलि

लखनऊ, 15 अगस्त । उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 76वें स्वतंत्रता दिवस पर आजादी के शहीदों को विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित की। इस अवसर पर उन्होंने राज्य सरकार की उपलब्धियों को भी विस्तार से गिनाया।

स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष्य में विधान भवन के सम्मुख आयोजित मुख्य कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री योगी ने सर्वप्रथम देश की आजादी की अगुआई करने वाले राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को नमन किया। उन्होंने कहा कि इस अवसर पर हम ज्ञात अज्ञात वीर सपूतों, जिन्होंने आजादी के लिए अपना सर्वस्व न्योछावर किया, आंतरिक सुरक्षा के लिए आहुति देने वालों को अपनी विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करता हूँ।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव से आम जन को जोड़कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्सव बनाया है। हर घर तिरंगा का कार्यक्रम हो या विभाजन विभीषिका के दिन मौन पदयात्रा से जुड़े। देश के 135 करोड़ लोगों के साथ जुड़ा है। यह सब कार्यक्रम हमें अपने अतीत से जोड़ता है। हमें गौरव की अनुभूति होनी चाहिए। पिछले ढाई साल के दौरान सदी की सबसे बड़ी महामारी का सामना किया। आज आजादी का महोत्सव जब हम मना रहे हैं तो सुहाना मौसम कर प्रकृति भी आशीर्वाद दे रही है। आज उत्तर प्रदेश कोविड से लड़ाई में नम्बर एक है।

योगी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में 37 वर्षों बाद पहली बार कोई सरकार लगातार दूसरी बार आई है। यह भी पहली बार हुआ जब कोई मुख्यमंत्री अपना लगातार दूसरा कार्यकाल शुरू किया। बिना रुके बिना थके जनता की सेवा में फिर से जुट गया।

पूर्व में स्वाधीनता दिवस के अवसर पर सुबह नौ बजे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यूपी विधान भवन पर ध्वजारोहण किया। पीएसी बैंड ने राष्ट्रगान की धुन प्रस्तुत की। आसमान से हेलीकाप्टर से पुष्प वर्षा की। स्कूली बच्चों और प्रदेश के विभिन्न जिलों के सांस्कृतिक दलों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया।

इस मौके प्रदेश के दोनों उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और ब्रजेश पाठक, जलशक्ति मंत्री स्वतंत्र देव सिंह, राज्य मंत्री दानिश आजाद अंसारी, एमएलसी व हज कमेटी के चेरमैन मोहसिन रजा, मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र, अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी, नवनीत सहगल समेत आला अधिकारी मौजूद रहे।