हम केवल भाषण नहीं करते, काम करके दिखाते हैं: योगी

हम केवल भाषण नहीं करते, काम करके दिखाते हैं: योगी

लखनऊ, 04 जुलाई । उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपनी सरकार के दूसरे कार्यकाल के सौ दिन पूर्ण होने पर रिपोर्ट कार्ड जारी किया। योगी ने कहा कि हम केवल भाषण नहीं करते, काम करके दिखाते हैं। पिछले पांच साल का नतीजा रहा है कि जनता ने एक बार फिर भाजपा को प्रदेश की सेवा करने का मौका दिया। दूसरे कार्यकाल में हम एक नई उड़ान के साथ अपनी यात्रा आगे बढ़ा रहे हैं। इस सरकार में हमने सौ दिन का लक्ष्य रखा था जिसे मजबूती से पूरा किया जा रहा है। यह सौ दिन अगले पांच साल तक चलने वाली सरकार के कार्य करने की दिशा को बता रहे हैं।

मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने सोमवार को लोकभवन में पत्रकारों से कहा कि उत्तर प्रदेश के इतिहास में 37 वर्षों बाद प्रचंड बहुमत के साथ फिर से सरकार बनाने के बाद सफलतापूर्वक सौ दिन के कार्यकाल का संचालन किया। हमने जो कहा, सो किया। हम केवल भाषण नहीं करते हैं। काम करके दिखाते हैं। यह प्रदेश में अलग-अलग सेक्टर के लिए की गई कार्ययोजना का एक छोटा सा उदाहरण है। यह सरकार की दिशा को स्पष्ट कर देगी कि अगले पांच वर्ष में सरकार किस दिशा में आगे बढ़ रही है। उन्होंने गरीब कल्याण, किसान कल्याण, कानून व्यवस्था, स्वास्थ्य एवं चिकित्सा सुविधाएं, शिक्षा, अवस्थापना, निवेश, रोजगार और स्वरोजगार, विद्युत, ग्राम्य विकास, जल जीवन मिशन एवं ग्रामीण जलापूर्ति और वन एवं पर्यावरण सहित अन्य विभिन्न मुद्दों पर भी बात रखी। इस दौरान उन्होंने सरकार जनता के द्वार कार्यक्रम की उपलब्धियों के बारे में भी बताया।

योगी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने भारत की अर्थव्यवस्था पांच ट्रिलियन डॉलर की बनाने का देश के लिए जो लक्ष्य निर्धारित किया है, स्वभाविक रूप से उत्तर प्रदेश की भूमिका महत्वपूर्ण हो जाती है। हमारी सरकार 10 सेक्टर चुनकर व्यवस्थित कार्य योजना बनाकर उत्तर प्रदेश की अर्थव्यवस्था को एक ट्रिलियन डॉलर तक पहुंचाने की ओर आगे बढ़ी है। आज उत्तर प्रदेश को देश की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था के रूप में इस लक्ष्य को आगे बढ़ाते हुए हमने अगले पांच वर्ष की कार्य योजना तैयार की है। मुख्यमंत्री के साथ इस मौके पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या, ब्रजेश पाठक, कैबिनेट मंत्री सुरेश खन्ना, आशीष पटेल, मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र, अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी, नवनीत सहगल, एसपी गोयल समेत अन्य अधिकारी मौजूद थे।

आदित्यनाथ ने कहा कि विधानसभा चुनाव में प्रदेश की जनता ने एक बार फिर कार्य करने का मौका दिया। विधान परिषद की स्थानीय निकाय कोटे की 36 सीटों पर चुनाव हुए। उसमें से 33 सीटों पर भाजपा जीती। तीन सीटों पर निर्दलीय उम्मीदवार जीते। सपा, बसपा और कांग्रेस का खाता नहीं खुला। कांग्रेस अपने सबसे खराब दौर में पहुंच गयी है। पहली बार वह विधानपरिषद में शून्य पर पहुंच गयी है। पिछले दिनों प्रदेश की दो लोकसभा सीटों आजमगढ़ और रामपुर में हुए उपचुनाव में भी जनता ने भाजपा को ही आशीर्वाद दिया है। इन दोनों सीटों पर 2019 के लोकसभा चुनाव में सपा जीती थी।

योगी ने विपक्ष का जिक्र किए बिना कहा कि उत्तर प्रदेश 2017 के पहले परिवावारवाद, जातिवाद, भ्रष्टाचारवाद, दंगों और अराजकता के लिए जाना जाता था। प्रदेश में अजीब सी स्थिति थी। उत्तर प्रदेश के सामने पहचान का संकट था। केंद्रीय योजनाओं को लागू करने की राज्य सरकार की इच्छा शक्ति नहीं दिखती थी। हमने पांच साल में कानून व्यवस्था को बेहतर किया। उत्तर प्रदेश के बारे में लोगों की धारणाएं बदलीं। महज सौ दिन में अपराधियों की 844 करोड़ रुपये की सम्पत्ति जब्त की गयी। पिछले पांच साल को भी मिला लिया जाए तो ढाई हजार करोड़ से अधिक की सम्पत्ति जब्त की गयी है। इस दौरान सरकार की उपलब्धियों को लेकर एक पुस्तक का विमोचन भी किया गया।