मध्य प्रदेश: दो दिन में कोरोना के 2572 नए मामले, मुख्यमंत्री ने बुलाई उच्च स्तरीय बैठक

भोपाल, 20 नवम्बर । मध्य प्रदेश में कोरोना के मामले फिर से बढ़ने लगे हैं। नवम्बर की शुरुआत में नये मामलों की संख्या एक हजार से नीचे हो गई थी लेकिन अब लगातार मामले बढ़ रहे हैं। बीते दो दिनों में राज्य में कोरोना के 2572 नए मामले सामने आए हैं। इससे सरकार की चिंता बढ़ गई है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आज शुक्रवार को दोपहर बाद इस संबंध में एक उच्च स्तरीय बैठक करेंगे।

प्रदेश के गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने शुक्रवार को ट्वीट कर बताया कि प्रदेश में कोविड-19 के बढ़ते मामले चिंता का विषय है। इस समय हर नागरिक को सावधान रहने की जरूरत है। सरकार ने सावधानी और सुरक्षा के लिहाज से सारे विकल्प खुले रखे हैं। इस संबंध में गृह विभाग सभी जरूरी निर्णय आज शाम तक लेगा। मुख्यमंत्री ने दिन में तीन बजे एक उच्च स्तरीय बैठक बुलाई है, जिसमें कोरोना संबंधी मामलों की समीक्षा होगी। इसमें कोरोना पर अंकुश लगाने के लिए नए निर्णय लिए जा सकते हैं।

दरअसल, मध्य प्रदेश में नवम्बर के शुरुआती दिनों में कोरोना के मामलों में लगातार गिरावट देखने को मिल रही थी। नये मरीजों की संख्या 500 के करीब पहुंच गई थी लेकिन राज्य सरकार ने दीपावली का पर्व धूमधाम से मनाने की छूट दी, जिसके चलते बाजारों में भीड़ उमड़ी और कोरोना गाइड लाइन के नियमों का जमकर उल्लंघन हुआ। इसकी चलते बीते दो दिनों में यहां नये संक्रमितों की संख्या 1209 और 1363 पहुंच गई। इसके अलावा शुक्रवार को अकेले इंदौर में जहां 313 और भोपाल में रिकार्ड 425 नये संक्रमित सामने आए हैं, वहीं संभावना जताई जा रही है कि सरकार कोरोना गाइड लाइन का पालन करने के लिए सख्ती कर सकती है। आज की मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की बैठक के बाद माना जा रहा है कि कोरोना को लेकर नई गाइड लाइन जारी की जा सकती है। सभी की नजर प्रदेश के दो सबसे बड़े शहरों, भोपाल और इंदौर की गाइड लाइन को लेकर भी है।