प्रधानमंत्री शनिवार को स्टार्टअप के साथ करेंगे बातचीत

नई दिल्ली, 14 जनवरी (हि.स.)। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी शनिवार को सुबह 10:30 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए स्टार्टअप से बातचीत करेंगे। इसका उद्देश्य यह समझना है कि देश में नवाचार चलाकर स्टार्टअप राष्ट्रीय जरूरतों में कैसे अपना योगदान दे सकते हैं।

प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) के अनुसार, कृषि, स्वास्थ्य, उद्यम प्रणाली, अंतरिक्ष, उद्योग 4.0, सुरक्षा, पर्यावरण सहित विभिन्न क्षेत्रों के स्टार्टअप इस बातचीत का हिस्सा होंगे। 150 से अधिक स्टार्टअप को विषयों के आधार पर छह कार्य समूहों में विभाजित किया गया है, जिनमें ग्रोइंग फ्रॉम रूट्स, नडिंग द डीएनए, फ्रॉम लोकल टू वोकल, टेक्नोलॉजी ऑफ फ्यूचर, बिल्डिंग चैंपियन इन मैन्युफैक्चरिंग और सस्टेनेबल डेवलपमेंट शामिल है। प्रत्येक समूह बातचीत में आवंटित विषय पर प्रधानमंत्री के समक्ष एक प्रस्तुति देगा।

आजादी का अमृत महोत्सव के एक भाग के रूप में एक सप्ताह तक चलने वाले कार्यक्रम, सेलिब्रेटिंग इनोवेशन इकोसिस्टम, डीपीआईआईटी, वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय द्वारा 10 से 16 जनवरी तक आयोजित किया जा रहा है। यह आयोजन स्टार्टअप इंडिया पहल के शुभारंभ की छठी वर्षगांठ का प्रतीक है।

पीएमओ के अनुसार, प्रधानमंत्री का देश के विकास में महत्वपूर्ण योगदान देने के लिए स्टार्टअप्स की क्षमता में दृढ़ विश्वास रहा है। यह 2016 में स्टार्टअप इंडिया की प्रमुख पहल के शुभारंभ में परिलक्षित हुआ। सरकार ने स्टार्टअप की वृद्धि और विकास को बढ़ावा देने के लिए एक सक्षम वातावरण प्रदान करने पर काम किया है। इसका देश में स्टार्टअप इकोसिस्टम पर जबरदस्त प्रभाव पड़ा है और इससे देश में यूनिकॉर्न का चौंका देने वाला विकास हुआ है।