वर्षा राऊत शनिवार को ईडी के समक्ष पेश होंगी, संजय राऊत बोले- रोना नहीं, लड़ना है

वर्षा राऊत शनिवार को ईडी के समक्ष पेश होंगी, संजय राऊत बोले- रोना नहीं, लड़ना है

मुंबई, 05 अगस्त । शिवसेना नेता संजय राऊत ने कहा कि रोना नहीं, लड़ना है। स्वर्गीय बालासाहेब की सीख है कि मुसीबत का लड़ते हुए सामना करो और हम करेंगे। उनकी पत्नी को भी पूछताछ के लिए बुलाए जाने संबंधी सवाल पर संजय राऊत ने कहा कि बुलाने दो, किस -किस को बुलाना है, हम डरेंगे नहीं।

संजय राऊत को शुक्रवार को जे.जे. अस्पताल में मेडिकल चेकअप के लिए प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की टीम ले गई थी। वहां से निकलने वक्त संजय राऊत ने उपरोक्त बातें मीडिया से कहीं।

संजय राऊत के भाई विधायक सुनील राऊत ने कहा कि वर्षा राऊत को आज ईडी ने पूछताछ के लिए बुलाया था लेकिन वह आज नहीं गईं। शनिवार को वर्षा राऊत ईडी दफ्तर में पूछताछ के लिए जाएंगी । सुनील राऊत ने कहा कि संजय राऊत 2004 से लगातार राज्यसभा सदस्य हैं । इसके साथ ही सामना के कार्यकारी संपादक हैं। इसके बाद भी ईडी की टीम उनसे पूछ रही है कि एक करोड़ 17 लाख रुपये कहां से आए, यह पूरी तरह से हास्यास्पद है। ईडी के सवाल आम जनता के गले नहीं उतर रहा है। संजय राऊत तथा उनकी पत्नी ने अलीबाग में रेडी रेकनर की दर से जमीन खरीदी है और बाकायदा चुनाव आयोग में चुनाव लड़ते समय इस समय की रेडी रेकनर की दर के हिसाब से उस जमीन का उल्लेख किया है। जो भी हिसाब है, वह बैंक खाते में है। सुनील राऊत ने कहा कि फर्जी कागजात के आधार पर संजय राऊत को फंसाया जा रहा है लेकिन हम लड़ेंगे। कितना भी फर्जीवाड़ा किया जाए, हम शिवसेना नहीं छोड़ेंगे।

उल्लेखनीय है कि संजय राऊत को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने 1 अगस्त को गोरेगांव स्थित पत्राचाल घोटाला मामले में गिरफ्तार किया था। फिलहाल 8 अगस्त तक संजय राऊत ईडी की हिरासत में हैं।